राज्य बजट- सभी वर्गों की उम्मीदें परवान पर, जोधपुर, उदयपुर और बीकानेर संभाग की ये हैं मांगें

केन्द्रीय बजट के बाद अब प्रदेशवासियों की निगाहें राज्य के बजट पर टिकी हैं. दो दिन बाद बुधवार को राज्य सरकार अपना पहला बजट पेश करेगी. सत्ता परिवर्तन के बाद लोगों को अब गहलोत सरकार के बजट से काफी उम्मीदें हैं.

News18 Rajasthan
Updated: July 8, 2019, 11:14 PM IST
राज्य बजट- सभी वर्गों की उम्मीदें परवान पर, जोधपुर, उदयपुर और बीकानेर संभाग की ये हैं मांगें
सीएम अशोक गहलोत फाइल फोटो।
News18 Rajasthan
Updated: July 8, 2019, 11:14 PM IST
केन्द्रीय बजट के बाद अब प्रदेशवासियों की निगाहें राज्य के बजट पर टिकी हैं. दो दिन बाद बुधवार को राज्य सरकार अपना पहला बजट पेश करेगी. सत्ता परिवर्तन के बाद लोगों को अब गहलोत सरकार के बजट से काफी उम्मीदें हैं. प्रदेशवासियों की कई मांगें ऐसी हैं जो बरसों से पूरी नहीं हुई. उनके पूरी होने की बाट जोह रहे लोगों को उम्मीद है सीएम अशोक गहलोत उन्हें निराश नहीं करेंगे. वहीं .लोग चुनाव के समय की गई घोषणाओं के लिए भी बजट में कुछ अच्छा होने की उम्मीद लगाए बैठे हैं.

कितनी उम्मीदें होंगी पूरी
प्रदेश के युवा, बुजुर्ग, महिलाएं, नौकरीपेशा, किसान और व्यापारी सभी को उम्मीदें परवान पर हैं. यह दीगर बात है कि इनमें से कितनों की उम्मीदें पूरी होती हैं और कितनों की धराशायी. इसका खुलासा तो बुधवार को बजट का पिटारा खुलने पर ही हो पाएगा. यहां देखिए बजट को लेकर जोधपुर, बीकानेर और उदयपुर संभाग को क्या-क्या हैं उम्मीदें.

जोधपुर संभाग को है कुछ खास मिलने का बेसब्री से इंतजार

जोधपुर संभाग सीएम अशोक गहलोत का खुद का गृहक्षेत्र है. लिहाजा यहां के लोगों की उम्मीदें प्रदेश के अन्य लोगों से ज्यादा हैं. इस संभाग में जोधपुर, जालौर, पाली, बाड़मेर, सिरोही और जैसलमेर जिला शामिल है.
1. जोधपुर में एलिवेटेड रोड.
2. पर्यटन का विकास, कायलाना में रोप-वे की राह खुले.
Loading...

3. सिटी ट्रांसपोर्ट में सुधार के लिए कुछ खास हो.
4. फलौदी शहर को जिला बनाया जाए.
5. बाड़मेर में रिफायनरी के काम में तेजी और पेट्रोकेमिकल कॉम्प्लेक्स की मांग.
6. बाड़मेर के बालोतरा को जिला बनाया जाए.
9. जैसलमेर जिले में पर्यटन विकास को लेकर खास योजना बने.
7. जालोर जिले में नर्बदा नहर का विस्तार हो.

बीकानेर संभाग को है उद्योगों के स्थापना की दरकार
बीकानेर संभाग में बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़ और चुरू समेत चार जिले शामिल हैं. यहां के लोगों को भी गहलोत से बड़ी-बड़ी उम्मीदें हैं. इस संभाग की सबसे बड़ी मांग इस क्षेत्र में उद्योगों की स्थापना है.
1. बीकानेर में ड्राईपोर्ट बनाने की स्थापना हो.
2. ऊन उद्योग को बचाने की सुदृढ़ प्रयास हों.
3. बीकानेर को सिरेमिक्स हब बनाने की दिशा में पहल हो.
4. बीकानेर शहर में एलीवेटेड रोड बने.
5. हनुमानगढ़ जिला मुख्यालय पर कृषि विश्वविद्यालय की स्थापना.
6. श्रीगंगानगर जिला मुख्यालय पर मेडिकल कॉलेज की स्थापना.
7. चूरू के सरदारशहर में 100 बैड का अस्पताल व बालिका कॉलेज और रतनगढ में ट्रोमा सेंटर

उदयपुर संभाग की मांगों पर हर सरकार का रहता है खास फोकस
इस संभाग में उदयपुर, राजसमंद डूंगरपुर, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ़ और प्रतापगढ़ जिला शामिल है. प्रदेश की राजनीति में मेवाड का अहम स्थान है. इस क्षेत्र मांगों को कभी कोई सरकार अनदेखा नहीं करती है.
- पर्यटन के क्षेत्र में उदयपुर के लिए विशेष पैकेज की घोषणा.
- ट्राईबल ट्यूरिज्म सर्किट विकसीत किया जाए.
- देवास के तीसरे और चौथे चरण का कार्य शुरू हो.
- आयड़ नदी को वेनिस नदी के रूप में विकसीत किया जाए.
- प्रतापगढ़ में बालिका महाविद्यालय, पर्यटन केन्द्र की स्थापना और रिंग रोड़
- चित्तौड़गढ़ में मेडिकल कॉलेज, अफीम के पट्टों की बहाली और सीता माता सेंच्युरी का विकास.
- राजसमंद में मार्बल उद्योग को मार्बल मंडी का दर्जा और मीठे पानी की झील के लिए पानी की आवक का स्थायी समाधान
- डुंगरपुर में कौशल विकास केन्द्रों की स्थापना, बेणेश्वर धाम का विकास और सोम कमला आंबा बांध से प्यास बुझाने की मांग
- बांसवाड़ा में माही की जर्जर नहरों का सुदृढ़ीकरण, रेलवे परियोजना के लिए पैसा और पर्यटन स्थलों का विकास.

SC-ST वर्ग को बड़ी राहत, जारी रहेगा पदोन्नति में आरक्षण

बेटे को SDM के सामने पेश कर पिता बोला- लड़कियों को छेड़ता है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 8, 2019, 11:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...