Jaipur: पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष द्रोण यादव ने सैम पित्रोदा से मुलाकात कर अमेरिकी चुनावों पर की चर्चा

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बेहद नजदीकी रहे सैम पित्रोदा की आज भी कांग्रेस में काफी अहमियत है.
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बेहद नजदीकी रहे सैम पित्रोदा की आज भी कांग्रेस में काफी अहमियत है.

राजस्थान विश्वविद्यालय लॉ कॉलेज छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष द्रोण यादव ने शिकागो में सैम पित्रोदा (Sam Pitroda) से मुलाकात कर अमरीकी चुनावों (US elections) के भारत पर प्रभाव को लेकर चर्चा की. सैम पित्रोदा ओवरसीज कांग्रेस ( Overseas Congress) के चेयरपर्सन हैं.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान विश्वविद्यालय लॉ कॉलेज छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष द्रोण यादव ने ओवरसीज कांग्रेस के चेयरपर्सन सैम पित्रोदा (Sam Pitroda) से मुलाकात कर अमरीकी चुनावों (US elections) के भारत पर प्रभाव को लेकर चर्चा की. शिकागो में सैम पित्रोदा के निजी निवास पर हुई इस मुलाकात में द्रोण यादव ने उनसे पोस्ट कोरोना वर्ल्ड इकोनॉमी (Post corona world economy) को लेकर भी बातचीत की. द्रोण यादव ने इस मुलाकात को काफी अहम बताया है.

अमेरिकी चुनाव का नजदीक से देखने और अनुभव लेने अमेरिका गये द्रोण यादव ने बताया कि वे यहां के चुनावों का समझने का प्रयास कर रहे हैं. अमेरिका के चुनावों को विश्वभर में ध्यान से देखा जाता है. इन चुनावों का दुनियाभर में बड़ा असर पड़ता है. इन चुनावों में भारतीयों की क्या भूमिका रहती है. बकौल द्रोण इन चुनावों का भारत पर क्या असर पड़ेगा यह जानना अपने आप में काफी रुचिकर है. इन सब मुद्दों पर सैम पित्रोदा से मुलाकात कर अमेरिका के चुनावों के असर पर गंभीर चर्चा हई. द्रोण के अनुसार अमेरिका के चुनावों की कई ऐसी बातें हैं जो सीखने लायक हैं. उनमें से बहुत सी बातों को भारत में भी अपनाया जा सकता है.

Rajasthan: रेप की वारदातों पर पूर्व सीएम वसुंधरा राजे का अशोक गहलोत पर 'Twitter attack', कहा-जंगलराज



कौन हैं सैम पित्रोदा
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बेहद नजदीकी रहे सैम पित्रोदा की आज भी कांग्रेस में काफी अहमियत है. उन्हें साल 2017 में इंडियन ओवसीज कांग्रेस का चेयरमैन बनाया गया था. सैम पित्रोदा के कई बयान ऐसे रहे हैं जिन पर कांग्रेस घिरती रही है. पिछले दिनों पुलवामा हमले को लेकर भी पित्रोदा ने एक बयान दिया था, जिस पर कांग्रेस पार्टी फिर घिर गई थी. सैम पित्रोदा जाने-माने इंजीनियर हैं. उन्होंने खुद कई आविष्कार भी किए हैं.

Rajasthan: चूरू में 19 साल की युवती से गैंगरेप, 3 जगहों पर 9 युवकों ने दिया वारदात को अंजाम

महात्मा गांधी से काफी प्रेरित रहा है पित्रोदा का परिवार
विज्ञान एवं अभियांत्रिकी के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए पित्रोदा को पद्म भूषण से भी नवाजा जा चुका है. पित्रोदा के बारे में बताया जाता है उनका परिवार आजादी के आंदोलन के समय महात्मा गांधी से काफी प्रेरित था. पित्रोदा ने भी अपने भाई के साथ गांधी दर्शन की अलग से पढ़ाई की है. मूलतया भारत के ओडिसा राज्य के निवासी पित्रोदा ने शिकागो में ही पढ़ाई की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज