छात्रसंघ चुनाव-2019: राजस्थान विश्वविद्यालय में ABVP और NSUI की प्रतिष्ठा दांव पर

Mahesh Dadhich | News18 Rajasthan
Updated: August 26, 2019, 6:38 PM IST
छात्रसंघ चुनाव-2019: राजस्थान विश्वविद्यालय में ABVP और NSUI की प्रतिष्ठा दांव पर
राजस्थान विश्वविद्यालय, जयपुर।

राजस्थान विश्वविद्यालय (Rajasthan University) में होने जा रहे छात्रसंघ चुनाव (Students Union Election-2019) में छात्र संगठनों एबीवीपी (ABVP) और एनएसयूआई (ABVP) की प्रतिष्ठा (Prestige) दांव पर लग गई है. बीते लगातार 3 बरसों से निर्दलीय प्रत्याशियों (Independent candidates) की जीत ने छात्र संगठनों की चिंताएं बढ़ा रखी है.

  • Share this:
राजस्थान विश्वविद्यालय (Rajasthan University) में होने जा रहे छात्रसंघ चुनाव (Students Union Election-2019) में छात्र संगठनों एबीवीपी (ABVP) और एनएसयूआई (ABVP) की प्रतिष्ठा (Prestige) दांव पर लग गई है. बीते लगातार 3 बरसों से निर्दलीय प्रत्याशियों (Independent candidates) की जीत ने छात्र संगठनों की चिंताएं बढ़ा रखी है. इस बार भी बागी प्रत्याशी चुनाव मैदान में डटे हुए हैं. ऐसे में मुकाबला त्रिकोणीय और रोचक बन गया है. छात्रसंघ चुनाव के लिए मंगलवार को मतदान होगा.

अध्यक्ष पद पर निर्दलीय प्रत्याशी दे रहे हैं कड़ी चुनौती
राजस्थान विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनावों में मुकाबला इस बार दोनों छात्र संगठनों एबीवीपी और एनएसयूआई के बीच नजर आ रहा था. लेकिन मैदान में बागियों की बगावत संगठनों के लिए परेशानी का सबब बनती दिखाई पड़ रही हैं. अध्यक्ष पद पर बात करें तो इस बार पांच प्रत्याशी है, लेकिन मुकाबले में एबीवीपी के अमित बड़बड़वाल और एनएसयूआई के उत्तम चौधरी को एनएसयूआई की बागी प्रत्याशी पूजा वर्मा मजबूती से चुनौती दे रही है. एनएसयूआई के बागी मुकेश चौधरी भी वोट बैंक में सेंधमारी कर सकते हैं.

महासचिव पद पर 7 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं

महासचिव पद पर भी संगठनों के बागियों के कारण मुकाबला रोचक हो गया है. एबीवीपी के बागी नीतिन शर्मा इस मुकाबले में हैं. वहीं राजेश चौधरी ने मुकाबले को चतुष्कोणिय बना रखा है. यहां पर एनएसयूआई के महावीर गुर्जर और एबीवीपी के अरूण शर्मा मैदान में हैं. महासचिव पद पर 7 प्रत्याशी चुनाव मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. उपाध्यक्ष पद पर 3 प्रत्याशी हैं. इनमें मुकाबला एबीवीपी के दीपक कुमार, एनएसयूआई की कोमल मीणा और एसएफआई की कोमल बुरड़क के बीच है. संयुक्त सचिव पद पर एनएसयूआई की लक्ष्मी प्रताप खंगारोत औऱ एबीवीपी की किरण मीणा चुनावी मैदान में है. वहीं अशोक चौधरी भी इस पद पर चुनाव लड़ रहे हैं, लेकिन मुकाबला दोनों संगठनों के बीच नजर आ रहा है.

धनबल से लेकर जातिगत वोटों के ध्रुवीकरण का भी हो रहा प्रयास
छात्रसंघ चुनावों में धनबल से लेकर जातिगत वोटों के ध्रुवीकरण का भी प्रयास किया जा रहा है. मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए छात्र नेता हर तरह के हथकंड़े आजमा रहे हैं. देखना दिलचस्प होगा कि क्या इस बार संगठनों को चुनाव में सफलता मिल पाती है या फिर से बाजी निर्दलीय मार ले जाएंगे.
Loading...

छात्रसंघ चुनाव-2019: RU में NSUI में बगावत का झंडा बुलंद

छात्रसंघ चुनाव-2019: कल होगा मतदान, बुधवार को आएगा परिणाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 26, 2019, 6:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...