रंगत में आए छात्रसंघ चुनाव, प्रत्याशियों ने दाखिल किए नामांकन-पत्र

Mahesh Dadhich | News18 Rajasthan
Updated: August 22, 2019, 7:14 PM IST
रंगत में आए छात्रसंघ चुनाव, प्रत्याशियों ने दाखिल किए नामांकन-पत्र
राजस्थान विश्वविद्यालय में नामांकन दाखिल करने जाते प्रत्याशी। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

छात्रसंघ चुनाव (Student union elections) अब पूरी तरह से रंगत में आ चुके हैं. गुरुवार को प्रदेशभर में नामांकन (nomination) का दौर चला. वोटर्स का ध्यान आकर्षित करने के लिए प्रत्याशी (candidates) अलग-अलग अंदाज में नामांकन दाखिल करने पहुंचे.

  • Share this:
छात्रसंघ चुनाव (Student union elections) अब पूरी तरह से रंगत में आ चुके हैं. गुरुवार को प्रदेशभर में नामांकन (nomination) का दौर चला. वोटर्स का ध्यान आकर्षित करने के लिए प्रत्याशी (candidates) अलग-अलग अंदाज में नामांकन दाखिल करने पहुंचे. राजधानी जयपुर में राजस्थान यूनिवर्सिटी (Rajasthan University) और संघटक कॉलेजों में प्रत्याशियों ने धूमधड़ाके के साथ अपने नामांकन-पत्र दाखिल किए.

बागियों ने खड़ी की परेशानी
छात्र संगठनों के प्रत्याशियों ने अपने समर्थकों के साथ रैलियों के रूप में नामांकन पर्चे भरने के बाद जीत के दावे भी किए. दूसरी तरफ कैम्पस में बागियों ने भी संगठन के प्रत्याशियों के सामने नामांकन-पत्र भरकर चुनौतियां खड़ी कर दी है. बागियों की बगावत के बाद संगठनों में बैचेनी हैं. लेकिन संगठनों को उम्मीद है कि मान मनोव्वल के बाद बागियों को फिर से अपने पाले में ले आएंगे.

समर्थकों के साथ रैलियों में आए प्रत्याशी

आरयू के छात्रसंघ चुनाव के लिए एबीवीपी और एनएसयूआई के पैनल ने विश्वविद्यालय के विभाग और कॉलेजों में नामांकन-पत्र दाखिल किए. कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बावजूद प्रत्याशी अपने समर्थकों के साथ रैलियों में आए. आरयू के एपेक्स अध्यक्ष पद के लिए एबीवीपी के प्रत्याशी अमित बड़बड़वाल ने दर्शन शास्त्र और एनएसयूआई के अध्यक्ष प्रत्याशी उत्तम चौधरी ने समाज शास्त्र विभाग में अपना नामांकन पत्र विभगाध्यक्षों को सौंपा. एपेक्स महासचिव पद पर एबीवीपी प्रत्याशी अरूण शर्मा और एनएसयूआई के महावीर गुर्जर ने नामांकन-पत्र दाखिल किया.

टिकट वितरण में भेदभाव का आरोप
दूसरी तरफ एबीवीपी और एनएसयूआई संगठनों में टिकट की दौड़ में सफल नहीं हो सके दावेदारों ने टिकट वितरण में भेदभाव के आरोप लगाते हुए अपने ऐलान के मुताबिक नामांकन-पत्र भरकर चयनकर्ताओं को कररा जवाब देने की बात कही है. इस बीच एनएसयूआई गुरुवार को एक बागी प्रत्याशी को नामांकन-पत्र भरने से पहले मनाने में कामयाब रही. छात्रनेता ओम प्रकाश पांडर ने एनएसयूआई के समर्थन का ऐलान किया है. जबकि एबीवीपी को आरएलपी ने समर्थन दिया है. दोनों संगठनों के नेता बागियों को शुक्रवार तक नामांकन वापसी से पहले मनाने के दावे कर रहे हैं.
Loading...

4 साल की मासूम से रेप कर मार डाला था, रेपिस्ट को उम्रकैद

रॉबर्ट वाड्रा की गिरफ्तारी पर लगी अंतरिम रोक हटाई जाए-ED

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2019, 7:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...