राजस्थान: कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमण की सुपर स्पीड, हो सकती है बेड और ऑक्सीजन की मारामारी

अप्रैल के 20 दिन में ही मौतें 2818 से बढ़कर 3268 तक पहुंच चुकी हैं.

Super speed of corona Infection in Rajasthan: कोरोना की दूसरी लहर में राजस्थान में कोरोना की स्पीड ने जो गति पकड़ी है उसने राज्य सरकार समेत आम आदमी के होश उड़ा दिये हैं. अगर ये ही हालात रहे तो 30 अप्रैल तक प्रदेश में एक्टिव केस बढ़कर डेढ़ लाख हो जाने की संभावना है.

  • Share this:
    जयपुर. प्रदेश में लॉकडाउन (Lockdown) लगने के बावजूद कोरोना मरीजों की रफ्तार रुकने के नाम नहीं ले रही है. दूसरी लहर में न केवल संक्रमण (Corona Infection) की स्पीड पहली लहर की तुलना में दस गुना तेज है, बल्कि एक्टिव मरीजों की संख्या में भी बेतहाशा वृद्धि (Super speed growth) हो रही है. अभी एक्टिव मरीजों की संख्या 85 हजार के पार हो चुकी है. यदि यही रफ्तार रही तो 30 अप्रैल तक इनके बढ़कर डेढ़ लाख हो जाने की संभावना है.

    राजस्थान में कोरोना की दूसरी लहर का कहर बढ़ता ही जा रहा है. हालांकि राज्य सरकार ने इसकी रोकथाम के लिए वीकेंड कर्फ्यू के बाद 15 दिन का लॉकडाउन लगाया है. इसके अलावा गाइडलाइन में और सख्ती की गई है, लेकिन एक्टिव केसों की बढ़ती संख्या नित नये रिकार्ड बना रही है. पिछले साल कोरोना की पहली लहर में एक लाख संक्रमित मरीजों का आंकड़ा साढ़े छह माह में क्रॉस हो पाया था. लेकिन दूसरी लहर में मात्र 20 दिन में ही प्रदेशभर में एक लाख से ज्यादा कोरोना मरीज आ चुके हैं. इस 31 मार्च तक राज्य में 3,33,149 मरीज थे जो अब बढ़कर 4,38,785 हो गए हैं.

    अकेले जयपुर में ही 15 हजार एक्टिव केस
    हालात यह हैं कि यदि एक्टिव केस इसी गति से बढ़ते रहे तो कुछ शहरों में अस्पतालों में बैड, वेंटिलेटर और ऑक्सीज़न की कमी हो जाएगी. कोटा में गत दिवस ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने से 2 मरीजों की मौत हो गई ! प्रदेश में वर्तमान में 85 हजार से ज्यादा एक्टिव केस हैं. इनमें से अकेले जयपुर में ही 15 हजार से ज्यादा एक्टिव केस हैं. पिछले साल दो दिसम्बर को जयपुर में सर्वाधिक 9467 एक्टिव केस का रिकार्ड था जो अब ध्वस्त हो चुका है. मृत्यु दर का आंकड़ा भी इस बार भयावह हो रहा है. प्रदेश में पहली बार एक दिन में 64 लोगों की कोरोना के चलते मौत हो गई. अप्रैल के 20 दिन में ही मौतें 2818 से बढ़कर 3268 तक पहुंच चुकी हैं.

    पहली लहर से दूसरी लहर खतरनाक
    दूसरी लहर की भयावहता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि प्रदेश में 15 अप्रैल को पहली बार 19 जिलों में 100 से ज्यादा संक्रमित सामने आये थे. अब तीन दिन से प्रदेश में दस हजार से ज्यादा नए केस आ रहे हैं. जयपुर और जोधपुर दोनों में डेढ़ हजार से ज्यादा केस मिल रहे हैं. चिकित्सा विभाग की चिंता एक्टिव केसों में लगातार बढ़ती संख्या को लेकर है. पहली लहर में नए केस आने के साथ ठीक होने वाले मरीजों की संख्या भी अच्छी खासी रहती थी, जिससे एक्टिव केसों की संख्या नियंत्रित रहती. लेकिन इस बार रिकवरी रेट अच्छा न होने के चलते एक्टिव केस लगातार बढ़ रहे हैं. एक अप्रैल की तुलना में 20 अप्रैल को कई शहरों में एक्टिव केसों में दो सौ से आठ सौ फीसदी एक्टिव केसों में वृद्धि हुई है.

    खतरनाक रफ्तार से बढ़ते आंकड़े
    जिला          1 अप्रैल तक          20 अप्रैल तक            एक्टिव केस
    जयपुर         61691                 79625                     15955
    जोधपुर        46576                 60591                     10955
    कोटा           21493                 32983                     7457
    उदयपुर       13292                  24316                    9051
    अलवर         22110                  27091                   4060
    भीलवाड़ा      11033                  15911                   4591
    अजमेर         17945                  21804                    3010
    राजस्थान       333149             438785                    85571

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.