अपना शहर चुनें

States

स्वाइन फ्लू: मौत का आंकड़ा पहुंचा 54, केंद्रीय मंत्री सीआर चौधरी भी स्वाइन फ्लू की चपेट में

सांकेतिक फोटो।
सांकेतिक फोटो।

प्रदेश में स्वाइन फ्लू पर नियंत्रण की कोशिशें नाकाम हो रही हैं. केंद्रीय मंत्री सीआर चौधरी भी स्वाइन फ्लू की चपेट में आ गए हैं. इस साल 22 दिन में 54 लोगों की स्वाइन फ्लू से मौत हो चुकी है.

  • Share this:
प्रदेश में स्वाइन फ्लू पर नियंत्रण की कोशिशें नाकाम हो रही हैं. केंद्रीय मंत्री सीआर चौधरी भी स्वाइन फ्लू की चपेट में आ गए हैं. इस साल 22 दिन में 54 लोगों की स्वाइन फ्लू से मौत हो चुकी है. मंगलवार को बीकानेर और करौली में स्वाइन फ्लू पीड़ित दो मरीजों की मौत हो गई, जबकि प्रदेशभर में 79 नए मरीज सामने आए हैं.

अकेले जयपुर में एक ही दिन में 29 पॉजिटिव मिले हैं. पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा बढ़कर अब 1414 पहुंच गया है. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक पिछले 22 दिन में 6,117 लोगों के सैम्पल की स्वाइन फ्लू की जांच की गई. उनमें से 1,414 पॉजोटिव पाए गए हैं. यानी जांच में 23 फीसदी सैंपल पॉजिटिव पाए गए हैं. प्रदेश में जोधपुर में स्वाइन फ्लू का प्रकोप सबसे ज्यादा है. वहां पिछले 22 दिन में 20 स्वाइन फ्लू पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई.

चिकित्सकों की छुट्टियां रद्द की
प्रदेश में स्वाइन फ्लू की जांच के लिए 12 लैब हैं, लेकिन ये सभी मेडिकल कॉलेजों के अधीन संभाग मुख्यालयों के अस्पतालों में ही है. स्वाइन फ्लू के प्रकोप को देखते हुए सरकार ने इससे निपटने के लिए चिकित्सकों की छुट्टियां रद्द कर दी है. बिना सूचना ड्यूटी से नदारद लेने वाले चिकित्सकों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं.
ह भी पढ़ें: राजस्थान में सैकड़ों लोग Swine Flu की चपेट में, यहां पढ़ें- स्वाइन फ्लू के मुख्य लक्षण और बचाव के उपाय 



राजस्थान में स्वाइन फ्लू की जांच और इलाज कहां उपलब्ध है? यहां पढ़ें- पूरी जानकारी

2 दिन में 20 लाख घरों के सर्वे का दावा
स्वास्थ्य विभाग ने स्क्रीनिंग के लिए विशेष अभियान शुरू किया है. इसके तहत 2 दिन में 20 लाख घरों का सर्वे किया गया है. 55 लाख लोगों की स्क्रीनिंग का दावा किया गया है. 2 दिन में 1,905 लोगों को टेमी फ्लू दवा दी गई है. सभी जिला मुख्यालयों पर 24 घंटे काम करने वाले स्वइन फ्लू कंट्रोल रूम में बनाए गए हैं.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज