अपना शहर चुनें

States

REET: राजस्थान से जुड़ा सिलेबस बढ़ेगा, 11 लाख अभ्यर्थियों को मिल सकती है बड़ी सौगात

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का कहना है कि रीट शिक्षक भर्ती के लिये हाल ही में पात्रता में संशोधन की जरुरत को पूरा कर लिया गया है.
शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का कहना है कि रीट शिक्षक भर्ती के लिये हाल ही में पात्रता में संशोधन की जरुरत को पूरा कर लिया गया है.

रीट (REET) परीक्षा में शामिल होने वाले राजस्थान के करीब 11 लाख अभ्यर्थियों को एक और बड़ी सौगात (Gift) मिल सकती है. शिक्षा विभाग इसमें राजस्थान से जुड़ा कंटेट (Contents of Rajasthan) बढ़ाने की दिशा में काम कर रहा है.

  • Share this:
जयपुर. रीट शिक्षक भर्ती परीक्षा (REET) में राजस्थान में निवास करने वाले अभ्यर्थियों को खास तरजीह मिल सकेगी. शिक्षा विभाग (Education Department) इसके सिलेबस में राजस्थान के कंटेट (Contents of Rajasthan) को बढ़ाने के निर्देश दे चुका है. भर्ती में पूरी तरह तो नहीं लेकिन काफी हद तक इससे अन्य राज्य के अभ्यर्थियों के लिए राजस्थानी कैंडिडेट्स से मुकाबला करना आसान नहीं होगा. खुद शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का कहना है कि बीते दिनों राज्य के अभ्यर्थियों की मुहिम के बाद विभाग की ओर से राज्य के अभ्यर्थियों पर फोकस किया जा रहा है.

सीएम अशोक गहलोत ने अपनी सरकार के 2 वर्ष पूर्ण होने पर 18 दिसंबर को रीट भर्ती परीक्षा की तारीख का ऐलान किया था. सीएम ने अगले वर्ष 25 अप्रेल रीट शिक्षक भर्ती कराने की घोषणा की है. सीएम की इस घोषणा के साथ ही इसकी तैयारी कर रहे राज्य के करीब 11 लाख अभ्यर्थियों के सपनों को पंख लग गये हैं. उसके बाद सिलेबस में राजस्थान से जुड़ा कंटेट बढ़ने की संभावना प्रदेश के अभ्यर्थियों के लिये बड़ी सौगात हो सकती है.

राजस्थान में अब न्यू ईयर पर भी नहीं कर पाएंगे आतिशबाजी, गहलोत सरकार ने लगाई रोक

पात्रता में संशोधन की जरुरत को पूरा कर लिया गया है


शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का कहना है कि रीट शिक्षक भर्ती में हाल ही में पात्रता में संशोधन की जरुरत को पूरा कर लिया गया है. इसके तहत परीक्षा में आरक्षित वर्गों को पात्रता अंकों में 5 फीसदी से लेकर 20 फीसदी अंकों तक की रियायतों के प्रावधान किया जा चुका है. शिक्षा विभाग के अनुसार परीक्षा एनसीटीई के सिलबेस के साथ ही कराई जाएगी. लेकिन इसमें राजस्थान का सामान्य ज्ञान बढ़ा दिए जाने से यहां के अभ्यर्थियों को कुछ वरीयता मिल सकती है. पूर्व में राज्य की भर्तियों में स्थानीय निवासियों को ही पूरी तरह वरियता मिलने बात सामने आई थी. लेकिन इस पर डोटासरा ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशों और संविधान को ध्यान में रखते हुए बाहरी अभ्यर्थियों पर पूरी तरह रोक नहीं लगाई जा सकती हैं. उल्लेखनीय है कि बोर्ड की ओर से रीट परीक्षा का आयोजन दो लेवल में कराया जाएगा. प्रथम लेवल में रीट के अंकों के आधार पर और द्वितीय लेवल के लिए ग्रेजुएशन और रीट के अंकों के आधार पर भर्ती की जाएगी.

एक सप्ताह में भर्ती परीक्षा के लिए विज्ञप्ति जारी हो सकती है
शिक्षा विभाग से जुड़े सूत्रों के अनुसार माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अगले एक सप्ताह में भर्ती परीक्षा के लिए विज्ञप्ति द्वारा जारी कर सकता है. रीट शिक्षक भर्ती की परीक्षा के सिलेबस से राजस्थान से जुड़े ज्ञान का दायरा बढ़ने से प्रदेश के अभ्यर्थियों को खासा फायदा मिलेगा. उल्लेखनीय है कि रीट भर्ती परीक्षा की प्रदेश के लाखों बेरोजगार बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज