Rajasthan News: तबादलों के लिए शिक्षकों को अभी करना पड़ेगा इंतजार, जानें क्‍या बोले शिक्षा मंत्री

शिक्षा राज्यमंत्री ने कहा कि जब भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ट्रांसफर पर फैसला लेंगे उसके बाद इसकी प्रक्रिया शुरू की जायेगी.

Teacher Transfer News: राजस्थान में शिक्षकों के तबादले को लेकर चल रहे मसले का अभी समाधान होना मुश्किल है. शिक्षा राज्यमंत्री ने टीचर्स के तबादलों की गेंद को सीएम अशोक गहलोत के पाले में डाल रखी है.

  • Share this:
जयपुर. कोरोना वायरस से फैले संक्रमण का प्रकोप कम होने के साथ ही एक बार फिर से शिक्षा विभाग में शिक्षकों के ट्रांसफर (Transfers) को लेकर मांग उठनी शुरू हो गई है. कोरोना की दूसरी लहर से पहले शिक्षा विभाग में सिर्फ फर्स्ट ग्रेड के ही ट्रांसफर किए गए थे. अब वरिष्ठ अध्यापकों सहित थर्ड ग्रेड शिक्षकों (Teacher) और डार्क जोन में लगे शिक्षकों ने भी ट्रांसफर की मांग तेज कर दी है, लेकिन शिक्षकों के तबादलों के लिए फिलहाल इंतजार करना पड़ सकता है.

राजस्‍थान में सेकेंड और थर्ड ग्रेड शिक्षकों के तबादलों को लेकर शिक्षकों की मांग तेज हो रही है. लंबे समय से तबादलों की मांगों को लेकर शिक्षक आंदोलन करते आ रहे हैं. बीते दिनों तबादलों की गूंज सड़क से सदन तक भी सुनाई दी थी, लेकिन थर्ड ग्रेड तो दूर फिलहाल सेकेंड ग्रेड के भी तबादलों को लेकर भी कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही है. इसका कारण है शिक्षा मंत्री का बयान.

राजस्‍थान के शिक्षा मंत्री ने बढ़ाया संशय
शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का कहना था कि फिलहाल सरकारी स्तर पर ट्रांसफर को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है. इसके साथ ही ट्रांसफर की गेंद को शिक्षा राज्यमंत्री ने अब सीएम अशोक गहलोत के पाले में भी डाल दिया है. तबादलों पर उनका कहना था कि अंतिम फैसला मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को करना है. समय-समय पर सीएम के साथ होने वाली मीटिंग में इस मुद्दे पर चर्चा भी की जाती है, लेकिन अभी कोरोना का प्रकोप पूरी तरह से कम नहीं हुआ है. इसलिए अभी ट्रांसफर करने का कोई फैसला नहीं लिया गया है.

इसलिए भी नाराज हैं शिक्षक
शिक्षा राज्यमंत्री ने कहा था कि जब भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ट्रांसफर पर फैसला लेंगे उसके बाद ट्रांसफर खोले जाएंगे. प्रदेश के शिक्षकों में तबादलों पर शिक्षा राज्यमंत्री डोटासरा की ओर से दिए गए उस बयान को लेकर भी खासी नाराजगी है, जिसमें उन्होंने कहा था तबादला शिक्षकों का अधिकार नहीं है, शिक्षकों को तबादलों के बजाय पढ़ाने लिखाने पर ध्यान देना चाहिये. इस बार तबादलों का निर्णय सीएम पर छोड़ने पर शिक्षकों का कहना है कि जब तबादले सीएम करेंगे तो फिर फर्स्ट ग्रेड के तबादले क्यों किए जा रहे हैं?

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.