अलवर गैंगरेप: अपराधियों को माफ नहीं किया जाएगा: अशोक गहलोत

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि मैंने अधिकारियों के साथ बैठक की और उसमें यह तय हुआ कि निकट भविष्य में पूरे राजस्थान के अंदर हर जिले में एक सीईओ लेवल का ऑफिसर सिर्फ और सिर्फ महिलाओं पर अत्याचार के मामलों की मॉनिटरिंग करेगा.

News18 Rajasthan
Updated: May 11, 2019, 4:41 PM IST
News18 Rajasthan
Updated: May 11, 2019, 4:41 PM IST
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अलवर गैंगरेप के बारे में चिंता जताई. उन्होंने कहा कि अलवर में हुई गैंगरेप की घटना बहुत गंभीर मुद्दा है. दुर्भाग्य से ऐसी घटनाएं राज्य में लंबे अरसे से चली आ रही है. पिछली सरकार ने इन मुद्दों पर लगाम कसने में कोई खास ​काम नहीं किया. ऐसी घटनाएं कभी बीकानेर, कभी अलवर, कभी सीकर में इस तरह की घटनाएं होती रहती हैं. इस तरह की घटनाओं में इजाफा हुआ है. महिलाओं पर इस तरह के अत्याचार की घटनाएं बेहद दुर्भाग्यपूर्ण हैं. हमने निर्णय लिया है कि इस केस को ऑफिसर स्कीम के तहत ट्रांसफर करेंगे. पुलिस की निगरानी में पूरी जांच होगी और अपराधी को माफ नहीं जाएगा.

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि मैंने अधिकारियों के साथ बैठक की और उसमें यह तय हुआ कि निकट भविष्य में पूरे राजस्थान के अंदर हर जिले में एक सीईओ लेवल का ऑफिसर सिर्फ और सिर्फ महिलाओं पर अत्याचार के मामलों की मॉनिटरिंग करेगा, उसमे किडनैपिंग भी आती है, रेप केस भी आते है, गैंगरेप भी आते है, सभी मामले आएंगे. इसके लिए नई पोस्ट क्रिएट की जाएगी और पूरी मॉनिटरिंग होगी.



सीएम अशोक गहलोत ने पिछली सरकार ने क्योंकि ध्यान नहीं दिया, हमेशा जो केस नंबर है, एफआईआर नंबर कितने कम-ज्यादा हुए उसके आधार पर गृहमंत्री जी एप्रिशिएट करते गए. हौसलाअफजाई करते गए, उसकी वजह से और ज्यादा मुश्किलें बढ़ी हैं.

यह भी पढ़ें:  अलवर गैंगरेप केस: जयपुर में प्रदर्शन के दौरान हिरासत में लिए गए भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर

अलवर, भरतपुर और नागौर के बाद अब सीकर में गैंगरेप
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...