लाइव टीवी

टोल माफी का फैसला चुनावी फैसला था, प्राइवेट कार चलाने वाले सभी लोग सक्षम- गहलोत

News18 Rajasthan
Updated: October 31, 2019, 4:55 PM IST
टोल माफी का फैसला चुनावी फैसला था, प्राइवेट कार चलाने वाले सभी लोग सक्षम- गहलोत
गहलोत बोले, प्राइवेट कार चलाने वाले सभी लोग सक्षम हैं और इस फैसले का स्वागत करेंगे.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने स्टेट हाईवे (Rajasthan State Highway) पर निजी वाहनों ( Private Vehicles) से टोल (Toll) वसूली के फैसले को पिछली वसुंधरा राजे सरकार (Vasundhara Raje Government) का चुनावी फैसला बताया. उन्होंने कहा कि प्राइवेट कार चलाने वाले सभी लोग सक्षम हैं और इस फैसले का स्वागत करेंगे.

  • Share this:
जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने स्टेट हाईवे (Rajasthan State Highway) पर निजी वाहनों ( Private Vehicles) से टोल (Toll) वसूली के फैसले पर बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया (Dr. Satish Poonia) के बयान पर पलटवार किया है. उन्होंने कहा है कि, 'सतीश पूनिया जी को अभी बातें समझने में बहुत वक्त लगेगा. टोल माफी वाले मामले में वह चीजों को समझ नहीं रहे हैं'. गहलोत ने कहा कि पिछली वसुंधरा राजे सरकार (Vasundhara Raje Government) का टोल माफी का फैसला चुनावी फैसला था. इस फैसले को मेरिट के आधार पर नहीं लिया गया था. टोल माफी के कारण सरकार पर बहुत बड़ा वित्तीय भार आ रहा था. टोल कंपनी की शर्तों को बिना चर्चा के बदल दिया गया था. उन्होंने कहा कि  प्राइवेट कार चलाने वाले सभी लोग सक्षम हैं और मैं उम्मीद करता हूं कि प्राइवेट कार चलाने वाले लोग इस फैसले का स्वागत करेंगे.
सीएम गहलोत ने कहा कि उन्हें पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने टारगेट देकर भेजा है. वह लगातार मुख्यमंत्री पर हमलावर हो रहे हैं. सतीश पूनिया नए मुल्ले की तरह जोर से बांग दे रहे हैं.

बीजेपी ने जन विरोधी फैसला करार दिया
बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने स्टेट हाईवे पर फिर से टोल वसूली को लेकर एक दिन पहले कहा था कि दीपावली के तोहफे के लिए जनता तैयार रहे, राजकीय टोल नाकों पर फिर से लगेगा टोल!! राजकीय राजमार्गों पर निजी वाहनों का टोल माफ नहीं होगा. उन्होंने इस फैसले को जन विरोधी फैसला बताते हुए सरकार को जनता विरोधी करार दिया.



पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा ने भी कांग्रेस सरकार पर कसा तंज
पिछले साल 1 अप्रैल से टोल माफी लागू करने वाली तत्कालीन मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने गहलोत सरकार के इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि 'ये ही अंतर है कांग्रेस और भाजपा में'. उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार ने जनता को राहत देने का काम किया और कांग्रेस ने आहम करने का काम किया है.

vasundhara raje
वसुंधरा राजे ने इस फैसले को जनता को आहत करने वाला बताया है.


ये भी पढ़ें-
सजा नहीं जनता को राहत देने के वाला है TOLL टैक्स- मुख्य सचिव
गहलोत सरकार ने BJP सरकार का फैसला पलटा, स्टेट हाईवे पर भी देना होगा TOLL!

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 3:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...