लाइव टीवी

घर में सो रही थी 9 माह की मासूम, फाइनेंस कंपनी के लोगों ने मकान कर दिया सील

Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: February 14, 2020, 8:02 PM IST
घर में सो रही थी 9 माह की मासूम, फाइनेंस कंपनी के लोगों ने मकान कर दिया सील
परिजन गुहार लगाते रहे कि अंदर दुधमुंही बच्ची है, इसके बावजूद भी फाइनेंस कंपनी के लोगों ने बच्ची को अंदर बंद कर मकान को सील कर दिया. (प्रतीकात्मक फोटो)

राजस्थान में फाइनेंस कंपनी (Finance Companies) के कर्मचारियों ने एक मकान को सीज (House Seize) करने की कार्रवाई पूरी की. कर्मचारियों ने उस समय यह भी नहीं देखा कि अंदर 9 माह की मासूम सो रही है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्‍थान से एक चौंकाने वाली खबर आई है. यहां पर एक फाइनेंस कंपनी के लोगों ने घर को सील कर दिया. जिस परिवार को घर से बाहर किया वे लोग चिल्लाते रहे थे कि अंदर 9 माह की मासूम सो रही है. लेकिन उनकी एक न सुनी गई. दुधमुंही मासूम घंटो भूख और प्यास से घर के अंदर ही तड़पती रही. इस मामले को उजागर किया पुष्कर के विधायक सुरेश सिंह रावत ने. रावत ने राजस्‍थान विधानसभा में शून्यकाल के दौरान यह मुद्दा उठाया. उन्होंने बताया कि यह वारदात रूपनगढ़ में हुई. रावत के साथ ही बच्ची के माता पिता और परिजन भी विधानसभा पहुंचे और मीडिया से बातचीत की. मासूम के दादा ने बताया कि कोर्ट स्टे होने के बाद भी अवैध तरीके से फाइनेंस कंपनी ने मकान को सील कर दिया.

पुलिस और प्रशासन ने भी कुछ नहीं किया
विधायक रावत ने कहा कि लोन नहीं चुकाने के चलते निजी फाइनेंस कंपनी ने मकान को सील किया. इस दौरान परिजन गुहार लगाते रहे कि अंदर दुधमुंही बच्ची है, इसके बावजूद भी फाइनेंस कंपनी के लोगों ने बच्ची को अंदर बंद कर मकान को सील कर दिया. इस दौरान न तो पुलिस और न ही प्रशासन ने कुछ किया. सभी लोग मूकदर्शक बने देखते रहे.

Suresh Rawat
विधायक सुरेश सिंह रावत दुधमुंही मासूम को गोद में लेकर विधानसभा पहुंचे थे.


कार्रवाई की मांग
विधायक सुरेश रावत ने निजी फाइनेंस कंपनी, पुलिस, प्रशासन के ज़िम्मेदार पर कार्रवाई की मांग की है. विधानसभा अध्यक्ष ने सरकार को इस प्रकरण में जवाब देने के निर्देश दिए.
यह भी पढ़ें: CM गहलोत ने मोदी सरकार पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- गृह युद्ध भड़का रहा केंद्र

जयपुर, जोधपुर और कोटा में नगर निकाय चुनाव-2020 को लेकर 15 फरवरी होगा ये काम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 5:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर