मिशन वंदे भारत के दूसरे चरण की फ्लाइट्स का आवागमन जारी, दुशांबे से चली फ्लाइट में 184 छात्र जयपुर पहुंचे
Jaipur News in Hindi

मिशन वंदे भारत के दूसरे चरण की फ्लाइट्स का आवागमन जारी, दुशांबे से चली फ्लाइट में 184 छात्र जयपुर पहुंचे
जयपुर एयरपोर्ट मिशन वंदे भारत के तीसरे फेज के लिए तैयार (फाइल फोटो)

जयपुर एयरपोर्ट पर अभी भी मिशन वंदे भारत के दूसरे चरण की फ्लाइट्स का आवागमन जारी है. दरअसल ये वे फ्लाइट्स आ रही हैं जिन्हे आना तो पहले था लेकिन कई औपचारिकताएं पूरी न होने की वजह से ये दूसरे चरण की अंतिम तारीख तक एडजस्ट नहीं हो पाईं.

  • Share this:
जयपुर. मिशन वंदे भारत (Mission Vande Bharat) का तीसरा चरण भारत के लिए शुरू हो चुका है, लेकिन राजस्थान (Rajasthan) में ये 15 जून से शुरू होगा. इन सबके बीच जयपुर एयरपोर्ट (Jaipur Airport) पर अभी भी मिशन वंदे भारत के दूसरे चरण की फ्लाइट्स का आवागमन जारी है. दरअसल ये वे फ्लाइट्स आ रही हैं जिन्हे आना तो पहले था लेकिन कई औपचारिकताएं पूरी न होने की वजह से ये दूसरे चरण की अंतिम तारीख तक एडजस्ट नहीं हो पाईं. लिहाजा अब जाकर ये जयपुर पहुंच रही हैं. आज भी दोपहर तजाकिस्तान के दुशांबे शहर से 184 छात्रों को लेकर फ्लाइट जयपुर पहुंची है. इस सभी छात्रों को एयरपोर्ट से बसों के जरिए होटल ले जाया गया है. इन्हे क्वारंटाइन (Quarantine) कर दिया गया. जयपुर एयरपोर्ट के डायरेक्टर जेएस बलहारा ने कहा कि जिस तरह हमने सफलतापूर्वक दूसरे चरण की सभी फ्लाइट्स को अटैंड किया, वैसे ही तीसरे चरण के लिए भी हम पूरी तरह से तैयार है. तीसरे चरण के फिलहाल जयपुर के लिए 6 फ्लाइट्स का शिड्यूल आया है. जिसमें 900 प्रवासियों के राजस्थान पहुंचने की उम्मीद है.

तीसरे चरण की छह फ्लाइटें

15 जून की शाम 5:55 बजे बिस्केक, किर्गिजिस्तान से दिल्ली होकर फ्लाइट AI-1920 आएगी. 19 जून शाम 6:40 बजे अल्माटी, कजाकिस्तान से दिल्ली होकर फ्लाइट AI-1916 के आना तय हुआ है. 20 जून शाम 7:50 बजे अस्ताना, कजाकिस्तान से दिल्ली होकर फ्लाइट AI-1918 आएगी. 23 जून शाम 4:05 बजे दुशांबे, तजाकिस्तान से दिल्ली होकर फ्लाइट AI-1926 आएगी. 25 जून रात 12:30 बजे कीव, यूक्रेन से दिल्ली होकर फ्लाइट AI-1928 आएगी और 29 जून की रात 11:35 बजे मॉस्को, रूस से दिल्ली होकर फ्लाइट AI-1924 आएगी.



अराइवल हॉल मिशन वंदे भारत की फ्लाइट्स के लिए तैयार
जयपुर एयरपोर्ट पर अराइवल हॉल को पूरी तरह से मिशन वंदे भारत की फ्लाइट्स के लिए तैयार रखा गया है. मेडिकल टीम पूरी मुस्तैदी से काम कर रही है. सभी यात्रियों की डिटेल ली जा रही है, ताकि उनके घर पहुंचने के बाद भी उन्हें आसानी से ट्रेस किया जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज