लाइव टीवी

यह है जयपुर का विशेष थाना: 416 पुलिसकर्मी तैनात हैं यहां, 7 साल में महज 59 मामले हुए दर्ज

News18 Rajasthan
Updated: October 15, 2019, 4:33 PM IST
यह है जयपुर का विशेष थाना: 416 पुलिसकर्मी तैनात हैं यहां, 7 साल में महज 59 मामले हुए दर्ज
इस थाने में अब तक यानि पिछले 7 बरसों में महज 59 मामले ही दर्ज हुए हैं. इस साल अभी तक महज 1 ही मामला दर्ज हुआ है.

राजस्थान (Rajasthan) में सैंकड़ों पुलिस थाने (Police stations) हैं, जहां रोजाना सैंकड़ों मामले दर्ज होते हैं. लेकिन हम आज आपको ऐसे थाने के बारे में बताने जा रहे हैं जो प्रदेश के सबसे बड़े थानों (Biggest stations) में शुमार है. इस थाने की नफरी की संख्या सुनकर भी आप चौंक (Shocked) जाएंगे.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में सैंकड़ों पुलिस थाने (Police stations) हैं, जहां रोजाना सैंकड़ों मामले दर्ज होते हैं. लेकिन हम आज आपको ऐसे थाने के बारे में बताने जा रहे हैं जो प्रदेश के सबसे बड़े थानों (Biggest stations) में शुमार है. इस थाने की नफरी की संख्या सुनकर भी आप चौंक (Shocked) जाएंगे. इस थाने की नफरी है (पुलिसकर्मियों की संख्या) 416. यहां रोजाना नहीं बल्कि सालभर में भी ना के बराबर ही मामले दर्ज (Cases registered) होते हैं.

7 बरसों में महज 59 मामले ही दर्ज हुए
यह थाना है जयपुर मेट्रो पुलिस स्टेशन. इस थाने में कुल 416 पुलिसकर्मियों की नफरी है. इस थाने का स्टाफ जयपुर मेट्रो के 9 स्टेशनों पर सुरक्षा की दृष्टी से तैनात रहता हैं. वर्ष 2013 से शुरू हुए इस थाने में अब तक यानि पिछले 7 बरसों में महज 59 मामले ही दर्ज हुए हैं. इस साल अभी तक महज 1 ही मामला दर्ज हुआ है.

7 बरसों में थाने में दर्ज मामलों की संख्या

वर्ष 2013 - 15
वर्ष 2014 - 32
वर्ष 2015 - 07
Loading...

वर्ष 2016 - 01
वर्ष 2017 - 02
वर्ष 2018 - 01
वर्ष 2019 - 01

हर पल पुलिसकर्मियों को मुस्तैद रहना पड़ता है
जयपुर मेट्रो थाने में बेहद कम संख्या में मामले दर्ज होने के पीछे कारण 24 घंटे 365 दिन की चौकसी है. किसी भी अप्रिय घटना को टालने के लिए हर पल पुलिसकर्मियों को मुस्तैद रहना पड़ता है. यात्री भार कम होने के बावजूद हर पल निगरानी करनी आवश्यक होती है. जयपुर मेट्रो में प्रतिदिन करीब 10 हजार यात्री यात्रा करते हैं. लेकिन जयपुर हर मामले में संवेदनशील होने के कारण सुरक्षा पर विशेष ध्यान देना पड़ता है. जयपुर मेट्रो थाने के थानाधिकारी जयवीर सिंह ने बताते हैं कि हर स्टेशन पर करीब एक दर्जन पुलिसकर्मी तैनात रहते हैं.

अन्य थानों में भी ली जाती है सेवाएं
हालांकि जयपुर मेट्रो थाने की नफरी ज्यादा है, लेकिन इस थाने के पुलिसकर्मियों को पुलिस कमिश्नरेट की ओर से अक्सर दूसरे कार्यों में भी लगा दिया जाता है. त्यौहार और चुनाव के अलावा भी आवश्यकता पड़ने पर इस थाने के पुलिसकर्मियों की सेवाएं ली जाती हैं.

(रिपोर्ट- राकेश गुसाई एवं सौरभ गृहस्थी)

निकाय चुनाव: 19 अक्टूबर को निकाली जाएगी निकाय प्रमुख और मेयर की लॉटरी

विश्व धरोहर जयपुर: परकोटे का ड्रोन सर्वे, अवैध निर्माण चिन्हित कर हटाएगी सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 4:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...