लाइव टीवी

आसान होगा सफर: रोडवेज का बेड़ा बढ़ेगा, अगले सप्ताह शामिल होंगी 50 नई बसें
Jaipur News in Hindi

Sachin Kumar | News18 Rajasthan
Updated: January 25, 2020, 2:57 PM IST
आसान होगा सफर: रोडवेज का बेड़ा बढ़ेगा, अगले सप्ताह शामिल होंगी 50 नई बसें
नई बसों में यात्री सुरक्षा का भी विशेष ध्यान रखा गया है.

जल्द ही राजस्थान रोडवेज (Rajasthan Roadways) का बेड़ा बढ़ने वाला है. लंबे इंतजार के बाद रोडवेज के बेड़े में नई बसें (New buses) शामिल होने जा रही हैं. 50 बसें अगले सप्ताह (Next week) रोडवेज को मिल जाएंगी.

  • Share this:
जयपुर. जल्द ही राजस्थान रोडवेज (Rajasthan Roadways) का बेड़ा बढ़ने वाला है. लंबे इंतजार के बाद रोडवेज के बेड़े में नई बसें (New buses) शामिल होने जा रही हैं. रोडवेज ने 876 नई बसों की खरीद का टेंडर (Tender) जारी किया था. इसमें से 50 बसें अगले सप्ताह (Next week) रोडवेज को मिल जाएंगी. वहीं शेष बसें मार्च से पहले रोडवेज के बेड़े में शामिल हो जाएंगी.

नई बसों में यात्री सुरक्षा का भी विशेष ध्यान रखा गया है
इससे पहले जून, 2017 में रोडवेज के बेड़े में नई बसें शामिल हुईं थी. लेकिन उसके बाद से रोडवेज को लगातार बसों की कमी से जूझना पड़ रहा था. इन बसों के शामिल होने से रोडवेज को काफी हद तक राहत मिलेगी. वहीं पहले की तुलना में इन नई बसों में यात्री सुरक्षा का भी विशेष ध्यान रखा गया है. रोडवेज में नई बसों के शामिल होने का कर्मचारियों ने स्वागत किया है. लेकिन सरकार द्वारा इसका श्रेय लेने को गलत ठहराया है.

नई बसों में ये हैं खास सुविधाएं

- महिला सुरक्षा को लेकर पेनिक बटन
- सीसीटीवी कैमरों का प्रोविजन
- हर बस में व्हीकल ट्रैकिंग सिस्टम- ड्राइवर के पास पब्लिक अनाउंस सिस्टम
- इमरजेंसी में बर्जर सिस्टम और इमरजेंसी सिस्टम
- अग्निश्मन यंत्र

कर्मचारियों ने कहा सरकार इसका श्रेय ना ले
राजस्थान स्टेट रोडवेज एम्प्लाइज यूनियन जयपुर डिपो के सचिव धर्मेन्द्र चौधरी का कहना है कि हम नई बसें खरीदने का स्वागत करते हैं. लेकिन यदि सरकार इसका श्रेय लेती है तो यह पूरी तरह से गलत है. ये बसें रोडवेज ने अपने संसाधनों से लोन लेकर खरीदी हैं. जबकि हमारी मांग थी कि रोडवेज की माली हालत के मद्देनजर सरकार हमें बसें खरीदने के लिए आर्थिक मदद दे.

रोडवेज के मुद्दे पर बीजेपी ने कांग्रेस को घेरा
दूसरी तरफ बीजेपी ने भी राज्यपाल के अभिभाषण में 876 बसों को अपनी उपलब्धि बताने पर कांग्रेस को आड़े हाथों लिया है. बीजेपी नेताओं का कहना है कि कांग्रेस की कथनी और करनी में अंतर है. सत्ता में आने के लिए परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने रोडवेज कर्मियों से झूठे वादे किए. वो वादे सालभर बाद भी पूरे नहीं हुए. वहीं जिन बसों का श्रेय सरकार ले रही है उसके लिए कांग्रेस सरकार ने एक फूटी कौड़ी भी रोडवेज को नहीं दी है. बीजेपी सरकार के समय हमने 500 बसों के लिए रोडवेज को 100 करोड़ रुपए की आर्थिक मदद दी थी.

 

सदन में पेश हुआ CAA, NRC और NPR के खिलाफ संकल्प, ये हैं मुख्य बिन्दु

उदयपुर: टीवी एक्ट्रेस सेजल शर्मा के खुदकुशी के कदम से सदमे में आए परिजन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 25, 2020, 2:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर