Big News: राजस्थान में ब्लैक फंगस का इलाज भी अब 'चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना' में हुआ शामिल

राजस्थान में कोरोना के बाद ब्लैक फंगस का कहर.

राजस्थान में कोरोना के बाद ब्लैक फंगस का कहर.

Black fungus in Rajasthan: प्रदेश में ब्लैक फंगस बीमारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रदेश की गहलोत सरकार ने इसका इलाज भी मुख्यमंत्री चिंरजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में शामिल कर लिया है. इससे आम आदमी को काफी राहत मिलेगी.

  • Share this:

जयपुर. राजस्थान में कोरोना के साथ ही अब ब्लैक फंगस (Black fungus) ने भी चिंता बढ़ा दी है गहलोत सरकार ने इस बीमारी पर होने वाले खर्च से आमजन को राहत देते हुए इसे प्रदेश में लागू 'मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना' (Mukhya Mantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana) में शामिल किया है. राजस्थान सरकार की इस बीमा योजना में हर व्यक्ति के लिए पांच लाख रुपए तक मुफ्त इलाज की व्यवस्था है.

राज्य की अशोक गहलोत सरकार कोविड समेत अन्य बीमारियों को पहले ही इस योजना में शामिल कर चुकी है. अब प्रदेश में ब्लैक फंगस के बढ़ते मामले के बाद इस बीमारी के इलाज को भी चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में शामिल किया.

पिछले माह लॉच किया गया था इस योजना को

इस योजना को पिछले माह लॉच किया गया था. उसके बाद एक महीने तक इसमें रजिस्ट्रेशन करवाने की सुविधा दी गई थी. लेकिन कोरोना की दूसरी तरफ लहर से जूझ रहे लाखों लोग इसमें पूरी तरह से पंजीकरण नहीं करवा सके थे. इसके लिए इसमें रजिस्ट्रेशन की अवधि को एक माह के लिए और बढ़ा दिया गया है.
क्या है ब्लैक फंगस

राजधानी जयपुर के न्यूरो सर्जन डॉक्टर राजवेंद्र चौधरी के अनुसार म्यूकोरमाइसिस (ब्लैक फंगस) एक प्रकार का फंगल इंफेक्शन है. यह नाक और आंख से होता हुआ ब्रेन तक पहुंच जाता है. इससे मरीज की मौत भी हो जाती है. यदि किसी को म्यूकोरमाइसिस बीमारी है और उसका समय रहते पता चल जाए तो इसका इलाज संभव है. चिकित्सकों के मुताबिक इसके लक्षण नजर आने पर जल्द से जल्द चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए . कोविड पॉजिटिव होने के बाद नगेटिव हुए लोगों को खासतौर पर इसके लक्षणों पर ध्यान देना चाहिए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज