अपना शहर चुनें

States

BSP की बैठक में जबर्दस्त हंगामा, जमकर चले लात-घूसे, पुलिस में मामला दर्ज

जयपर में बसपा के पार्टी के मुख्यालय पर हुई बैठक में कार्यकर्ताओं ने पदाधिकारियों को निशाना बनाया.फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
जयपर में बसपा के पार्टी के मुख्यालय पर हुई बैठक में कार्यकर्ताओं ने पदाधिकारियों को निशाना बनाया.फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

बसपा (BSP) के सभी 6 विधायकों (MALs) के कांग्रेस (Congress) में चले जाने के बाद पार्टी में मची उथलपुथल अभी थमी नहीं है. हालात ये हो गए हैं कि रविवार को राजधानी जयपुर (Jaipur) में हुई बसपा बैठक (Meeting) में कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों (Activists and officials) में जमकर लात-घूसे चले. कार्यकर्ताओं में पार्टी पदाधिकारियों के प्रति जबर्दस्त आक्रोश (Tremendous resentment) नजर आया.

  • Share this:
जयपुर. बसपा (BSP) के सभी 6 विधायकों (MALs) के कांग्रेस (Congress) में चले जाने के बाद पार्टी में मची उथलपुथल अभी थमी नहीं है. हालात ये हो गए हैं कि रविवार को राजधानी जयपुर (Jaipur) में हुई बसपा बैठक (Meeting) में कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों (Activists and officials) में जमकर लात-घूसे चले. कार्यकर्ताओं में पार्टी पदाधिकारियों के प्रति जबर्दस्त आक्रोश (Tremendous resentment) नजर आया. वहीं पदाधिकारियों ने आरोप लगाया कि विधायकों ने कुछ कार्यकर्ताओं को सीखा कर भेजा है. हाथापाई में प्रदेश महासचिव के सिर पर चोट लगी है. उन्होंने सिंधी कैंप थाने में इस संबंध में मामला (case registered in police) भी दर्ज करवाया है.

कार्यकर्ताओं ने पदाधिकारियों को बनाया निशाना
जयपुर में बसपा के पार्टी के मुख्यालय पर हुई बैठक में कार्यकर्ताओं ने पदाधिकारियों को निशाना बनाया. बसपा विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने से कार्यकर्ता जबर्दस्त आक्रोशित थे. आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने पार्टी पदाधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा कि जनता को जवाब देना मुश्किल हो रहा है. कुछ लोग पार्टी को खत्म करना चाहते हैं. पैसों के चक्कर में अच्छे लोगों के टिकट काट दिए गए. उन्होंने पदाधिकारियों पर कार्यकर्ताओं के अपमान का भी आरोप लगाया.

'रामजी गौतम भगाओ, बसपा बचाओ' के नारे लगाए
बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रामजी गौतम, प्रदेशाध्यक्ष सीताराम मेघवाल, भगवान सिंह बाबा, प्रदेश महासचिव प्रेम बारूपाल, डॉ. विजय प्रताप और हरिसिंह तेनगुरिया समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे. बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं ने 'रामजी गौतम भगाओ, बसपा बचाओ' नारे लगाए. आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने बाद में पदाधिकारियों पर गुस्सा निकालते हुए उनसे हाथपाई की. इस दौरान जमकर लात-घूसे चले.



पदाधिकारियों ने भ्रष्टाचार की बात को सिरे से नकारा
हाथापाई में प्रदेश महासचिव प्रेम बारूपाल के सिर चोट में चेाट लग गई. उन्होंने इस संबंध में सिंधी कैंप थाने में मामला दर्ज करवाया है. पदाधिकारियों ने कहा कि कुछ असामाजिक तत्वों ने बैठक में हंगामा किया. पार्टी से निष्कासित कुछ पदाधिकारी भी उनमें शामिल थे. ये लोग बैठक में कैसे आए पता नहीं. पदाधिकारियों का कहना है कि उन्हें तो इस बात का भी पता नहीं है कि कार्यकर्ताओं को किस बात पर एतराज है. पदाधिकारियों ने पार्टी में भ्रष्टाचार की बात को सिरे से नकार दिया है.उल्लेखनीय है कि हाल ही में बसपा के सभी 6 विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए हैं. उसके बाद पार्टी में गदर मचा हुआ है.

विधानसभा उपचुनाव: मंडावा और खींवसर के लिए कांग्रेस में दावेदार हुए सक्रिय

BJP प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया बोले, कांग्रेस सरकार खुद ही हिट विकेट हो जाएगी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज