होम /न्यूज /राजस्थान /REET Exam में 6 लाख के चप्पल डिवाइस से नकल कराने वाला सरगना तुलसाराम कालेर गिरफ्तार

REET Exam में 6 लाख के चप्पल डिवाइस से नकल कराने वाला सरगना तुलसाराम कालेर गिरफ्तार

REET Exam Solver Gang Tulsaram Kaler Arrest: रीट परीक्षा में नकल करवाने वाला सरगना तुलसाराम कालेर जयपुर से गिरफ्तार.

REET Exam Solver Gang Tulsaram Kaler Arrest: रीट परीक्षा में नकल करवाने वाला सरगना तुलसाराम कालेर जयपुर से गिरफ्तार.

Tulsaram Kaler Arrested in REET cheat case: रीट परीक्षा के दौरान चप्पल में डिवाइस लगाकर नकल करवाने वाले गैंग के सरगना त ...अधिक पढ़ें

बीकानेर. रीट परीक्षा 2021 (Rajasthan REET Exam 2021) में चप्पल डिवाइस लगाकर नकल करवाने वाली गैंग के सरगना (Solver Gang) तुलसाराम कालेर ( (Tulsaram Kaler) को पुलिस ने सवा महीने बाद गुरुवार को जयपुर से गिरफ्तार कर लिया. अब पुलिस से पूछताछ करने में जुटी है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह इंदौलिया ने बताया कि कई टीमें घटना के बाद से ही तुलसाराम को गिरफ्तार करने में लगी थीं. पुलिस के पास पुख्ता सूचना थी कि जयपुर में अजमेर रोड स्थित एक आवासीय सोसायटी में रुका हुआ है. पुलिस ने अपने मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया और जयपुर से आरोपी तुलसाराम (Tulsaram Kaler Arrest) को गिरफ्तार कर लिया.

प्रदेश के अलग-अलग जिलों में चलती परीक्षा में कई अभ्यर्थियों को गिरफ्तार किया गया था जिनसे स्पष्ट हुआ कि नकल करवाने वाला मुख्य सरगना तुलसाराम कालेर है. तुलसाराम शातिर किस्म का होने से उसको भनक लग गई थी जिससे वह पुलिस की पकड़ से दूर भाग गया. पिछले एक महिने से पुलिस को चकमा दे रहा था. वह प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर छिपकर फरारी काट रहा था. आरोपी तुलसाराम वारदात के बाद श्रीगंगानगर, चूरू, सीकरए, अजमेर में फरारी काट कर जयपुर आकर रहने लग गया था. पुलिस से बचने के हर तरीके अपना रहा था. मुख्य सरगना खुद तीन साल पुलिस में नौकरी कर चुका है. पुलिस के काम करने के तरीके से पूरी तरह वाकिफ था.

इस तरह तैयार की गई थी डिवाइस
आरोपी तुलसाराम से पूछताछ में ये तथ्य पुलिस के सामने आए हैं कि ब्लूटूथ डिवाइस और अन्य डिवाइस इस तरह से तैयार करवाई जाती थी कि उसके अंदर वॉइस कॉलिंग डिवाइस बैटरी, सिम सॉकेट आदि फिट किये जाते थे. एक मक्खीनुमा ब्लूटूथ अभ्यर्थी के कान के अंदर बहुत बारीकी से सेट किया जाता था जिससे परीक्षा सेटर में किसी को भी शक ना हो और ना ही प्रशासन के पकड़ में आ सके. बहुत ही शातिर तरीके से डिवाइस को अंडरगारमेंट में बारीकी से छिपाकर इसका उपयोग करवाया जाता था. पैरों में चप्पल पहनने पर किसी को शक नहीं होने की भी संभावना बहुत ज्यादा थी.

ये भी  पढ़ें: दो पक्षों के झगड़े में अचानक हुई फायरिंग, छत पर खाना खा रही लड़की के सिर में लगी गोली, मौत

ऐसे पकड़ में आया आरोपी
गंगाशहर थानाप्रभारी राणीदान उज्जवल के निर्देशन में गंगाशहर थाना के उपनिरीक्षक राकेश स्वामी, हेड कॉन्सटेबल दीपक यादव, कानदान सांदू, कॉन्सटेबल वासूदेव, कॉन्सटेबल चन्द्रभान को जयपुर के लिए रवाना किया. पुलिस टीम चिन्हित जगह पर पहुंचकर सोसाइटी के बारे में सम्पूर्ण जानकारी जुटाई. पुलिस के लिए आरोपी के निवास स्थान तक पहुंचना एक बहुत बड़ी चुनौती थी. पुलिस टीम ने शातिर तुलसाराम कालेर की नजरों से बचते हुए करीब पहुंचने के लिए अपना स्वयं का हुलिया बदला. पुलिस टीम के सदस्य अलग-अलग कार्य करने वाले के रूप में जैसे, दुधिया बनकर, बिल्डिंग मेंटिनेंस कर्मचारी, ऑनलाइन डिलीवरी वाला बनकर तुलसाराम के निवास स्थान तक पहुंचे और तुलसाराम को गिरफ्तार किया.

Tags: Crime in Rajasthan, Jaipur news, Rajasthan news, REET exam

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें