• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • हुमायूं-बाबर पर बोलकर ट्रोल हुए राजस्थान BJP अध्यक्ष, लोगों ने ऐसे उड़ाया मजाक

हुमायूं-बाबर पर बोलकर ट्रोल हुए राजस्थान BJP अध्यक्ष, लोगों ने ऐसे उड़ाया मजाक

राज्यसभा सदस्य और राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष मदनलाल सैनी

राज्यसभा सदस्य और राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष मदनलाल सैनी

सबसे पहले तो उन्हें शायद मालूम नहीं है कि हुमायूं, बाबर का पिता नहीं बेटा था. इतना ही नहीं बाबर की मौत हुमायूं से 25 साल पहले हो गई थी.

  • Share this:
    ऐसा लगता है कि इतिहास से खिलवाड़ करना नेताओं की फितरत बन गई है. तभी तो आए दिन नेताओं से इतिहास के अजीबो-गरीब किस्से सुनने को मिलते रहते हैं. केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह ने चार्ल्स डार्विन के सिद्धांत को गलत बता दिया. त्रिपुरा के सीएम बिप्‍लब देब ने महाभारत काल में इंटरनेट और सैटेलाइट होने का दावा किया. और अब इतिहास के नए तथ्य को सामने ला रहे हैं राज्यसभा सदस्य और राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष मदनलाल सैनी.

    सैनी के मुताबिक हुमायूं और बाबर के बीच भी गाय को लेकर चर्चा हुई थी और हुमायूं ने बाबर को गाय का सम्मान करने की बात कही थी. बीजेपी अध्यक्ष मदनलाल सैनी ने कहा, ''मुझे याद आता है. जब हुमायूं मर रहा था, उस समय उसने बाबर को बुलाकर कहा अगर तुमको हिंदुस्तान में शासन करना है तो तीन चीजों का ध्यान रखना, एक गाय, दूसरा ब्राह्मण और फिर महिला, इनका अपमान नहीं होना चाहिए, हिंदुस्तान इनको सहन नहीं करता है.''

    सैनी ने बड़े आराम से इतिहास के पन्नों को पलट कर आम लोगों को नई कहानी बता दी. लेकिन वो भूल गए कि वो जो कुछ भी कह रहे हैं वो सबकुछ मनगढ़ंत है.

    बीजेपी अध्यक्ष का ये 'ज्ञान' हास्यास्पद है. सबसे पहले तो उन्हें शायद मालूम नहीं है कि हुमायूं, बाबर का पिता नहीं बेटा था. इतना ही नहीं बाबर की मौत हुमायूं के मरने से 25 साल पहले हो गई थी. बाबर की मौत 1531 में हुई जबकि उनके बेटे हुमायूं ने आखिरी सांस 1556 में ली.

    मदनलाल सैनी अपने इस अजीबो-गरीब बयान पर ट्रोल हो रहे हैं. किसी ने लिखा है कि हुमायूं ने वैदिक तकनीक के जरिए बाबर को वापस बुलाया.

    एक शख्स ने लिखा है कि हुमायूं की आखिरी इच्छा करीना कपूर और उसके बेटे से मिलने की थी.





     जानकारी के लिए बता दें, भारत में मुगल साम्राज्य की स्थापना बाबर ने की थी. बाबर का पूरा नाम ज़हिर उद-दिन मुहम्मद बाबर था. बाबर के चार बेटे थे. हुमायूं, कामरान, अस्करी और हिन्दाल. इनमें हुमायूं सबसे बड़े थे. बाबर की मौत 1530 में हुई थी, जबकि हुमायूं की 1556 में.

    ये भी पढ़ें:

    'दलित ही क्यों करें गाय का अंतिम संस्कार, कैसी गौमाता, कैसी भक्ति, कैसा स्नेह..?'

    दिग्विजय सिंह टी टी नगर थाने से वापस लौटे, कहा 'अब कोर्ट ले जाऊंगा मामला'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन