• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Unemployment allowance: अशोक गहलोत की दो टूक, बेरोजगारी भत्ता इंटर्नशिप करने वालों को ही मिलेगा

Unemployment allowance: अशोक गहलोत की दो टूक, बेरोजगारी भत्ता इंटर्नशिप करने वालों को ही मिलेगा

गहलोत ने कहा कि सरकारी नौकरी के लिए युवा रात-दिन एक कर देते हैं. लेकिन सरकार सभी को नौकरी नहीं दे सकती.

गहलोत ने कहा कि सरकारी नौकरी के लिए युवा रात-दिन एक कर देते हैं. लेकिन सरकार सभी को नौकरी नहीं दे सकती.

Rajasthan unemployment allowance scheme 2021: राजस्थान में बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भत्ता पाने के लिये इंटर्नशिप करनी ही होगी अवर्ना उन्हें यह राशि देय नहीं होगी. सीएम गहलोत ने कहा है कि सरकार सभी को सरकारी नौकरियां नहीं दे सकती.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में बेरोजगारी भत्ता (Unemployment allowance) केवल उन्हीं युवाओं को मिलेगा जो स्किल डवलपमेंट के लिए इंटर्नशिप भी करेंगे. इस मसले पर सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने साफ कहा है कि सरकार सभी को सरकारी नौकरी नहीं दे सकती है. लिहाजा युवाओं को स्किल डवलपमेंट के जरिए आत्मनिर्भर बनने का प्रयास करना चाहिए. गहलोत ने विश्व युवा कौशल दिवस पर युवाओं को स्किल डवलपमेंट के जरिए स्वावलम्बी बनने का संदेश दिया. गहलोत ने कहा कि युवाओं को केवल बेरोजगारी भत्ता देने से काम नहीं चलेगा बल्कि उन्हें इंटर्नशिप भी करवाई जानी चाहिए. युवाओं को केवल डिग्रियां बटोरने की बजाए हाथ का हुनर हासिल कर आत्मनिर्भर बनने के प्रयास करने चाहिए.

विश्व युवा कौशल दिवस पर आयोजित वर्चुअल समारोह में गहलोत ने कहा कि सरकारी नौकरी के लिए युवा रात-दिन एक कर देते हैं. लेकिन सरकार सभी को नौकरी नहीं दे सकती. ऐसे में युवा बाद में फ्रस्टेशन का शिकार हो जाते हैं और एक उम्र के बाद ना इधर के रहते हैं ना उधर के. गहलोत ने कहा कि अब राज्य सरकार मुख्यमंत्री युवा सम्बल योजना में बदलाव करेगी. उसके तहत बेरोजगारी भत्ता केवल उन्हीं युवाओं को मिलेगा जो इंटर्नशिप भी करेंगे.

एक अम्ब्रेला के तहत होंगी संस्थाएं
गहलोत ने कहा कि देश के सामने बेरोजगारी बड़ी चुनौती है. दुनिया के तीन चौथाई युवा भारत में हैं और सरकार की जिम्मेदारी है कि उन्हें सही रास्ता दिखाए. उन्होंने स्किल डवलपमेंट के लिए कार्य कर रही अलग-अलग संस्थाओं को भी एक अम्ब्रेला के तहत लाने के निर्देश दिए. गहलोत ने कहा कि एक मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना होनी चाहिए जिसमें इस सेक्टर की सभी योजनाएं समाहित हों. गहलोत ने कहा कि एक सोच समाज को बदल देती है और देश को रास्ता दिखा देती है. राजीव गांधी की सोच ने देश में आईटी क्रांति ला दी जो स्किल डवलपमेंट के सेक्टर में भी महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर रही है. उन्होंने अधिकारियों को बड़ी कम्पनियों से भी बात कर सीधे कौशल प्रशिक्षण की संभावनाएं तलाशने को कहा.

अब तक 4.65 लाख को कौशल प्रशिक्षण
कौशल विभाग के मंत्री अशोक चांदना के साथ ही उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी और श्रम मंत्री टीकाराम जूली भी समारोह से जुड़े. समारोह में स्किल आइकन और स्किल एम्बेसडर्स का सम्मान किया गया. इसके साथ ही मंत्री चांदना ने उनसे सीधा संवाद भी किया. शासन सचिव नीरज के. पवन ने अपने प्रजेंटेशन में कहा कि प्रदेश में अब तक 4 लाख 65 हजार युवाओं को कौशल प्रशिक्षण दिया गया है. इनमें से करीब 2 लाख को नौकरियां मिली है. वहीं प्रदेश में 1 लाख 60 हजार युवाओं को बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज