राजस्थान: कोरोना पर सियासत अनलिमिटेड, पीसीसी चीफ डोटासरा का केन्द्र और BJP पर वार

डोटासरा ने कहा कि बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया को अपने सांसदों और केन्द्रीय मंत्रियों के साथ केन्द्र सरकार से बात कर जनता के हित की आवाज उठानी चाहिए.

डोटासरा ने कहा कि बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया को अपने सांसदों और केन्द्रीय मंत्रियों के साथ केन्द्र सरकार से बात कर जनता के हित की आवाज उठानी चाहिए.

Unlimited politics on Corona in rajasthan: प्रदेश में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण और लगातार बढ़ती मौतों के बीच राजस्थान में इसको लेकर सियासत पूरी तरह से गरमायी हुई है. मरीज भले ही अस्पतालों में संसाधनों के अभाव में तड़प रहे हो, लेकिन बीजेपी-कांग्रेस (BJP-Congress) के आरोप-प्रत्यारोपों में कोई कमी नहीं आ रही है.

  • Share this:

जयपुर. कोरोना पर देश-प्रदेश में सियासत अनलिमिटेड (Unlimited politics on corona) चल रही है. बीजेपी-कांग्रेस (BJP-Congress) में आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला नॉन स्टॉप जारी है. बीजेपी पिछले कई दिनों से कांग्रेस को घेरने का प्रयास कर रही थी तो अब कांग्रेस ने उस पर चौतरफा हमला बोल दिया है. सीएम अशोक गहलोत के केन्द्र से मिले खराब वेंटिलेटर्स का मामला उठाने के बाद पूरी कांग्रेस इसे लेकर मुखर हो गई है.

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने खराब वेंटिलेटर्स के साथ ही ऑक्सीजन और दवाइयों की कमी के मसले पर विपक्ष और केन्द्र सरकार पर हमला बोला है. डोटासरा ने कहा कि लोगों का जीवन बचाना राज्य सरकार की जिम्मेदारी है. लेकिन ऑक्सीजन और दवाइयों की व्यवस्था के लिए हम केन्द्र सरकार पर निर्भर हैं. प्रदेश में जरुरत 795 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की है लेकिन मिल केवल 366 मीट्रिक टन रही है. पीएम केयर फंड से मिले 70 प्रतिशत वेंटिलेटर चल नहीं रहे हैं. कमेटी पर कमेटी बन रही है लेकिन परिणाम कुछ नजर नहीं आ रहा है.

केन्द्र को करना चाहिए था ग्लोबल टेंडर

वहीं कांग्रेस ने वैक्सीन के ग्लोबल टेंडर के मसले पर भी केन्द्र सरकार पर निशाना साधा है. डोटासरा ने कहा कि प्रधानमंत्री को वैक्सीन के ग्लोबल टेंडर का फैसला लेना चाहिए था. लोगों से वैक्सीन लगवाने की अपील तो की जा रही है लेकिन वैक्सीन उपलब्ध हों तो लोग वैक्सीन लगवाएं. उन्होंने कहा कि मजबूरी में हमें वैक्सीन का स्लॉट 5 से 10 मिनट के लिए खोलना पड़ रहा है. डोटासरा ने कहा कि हमारे यहां की कम्पनियों ने वैक्सीन निर्माण के लिए आवेदन किया हुआ है लेकिन उन्हें अनुमति नहीं दी जा रही है. केवल दो कम्पनियों को मोनोपॉली चल रही है. सीरम जैसी कम्पनियां 90 प्रतिशत वैक्सीन भारत से बाहर बेच रही हैं लेकिन उस पर भी कोई लगाम नहीं लगाई जा रही है.

Youtube Video

बीजेपी उठाए केन्द्र के समक्ष हक की मांग

डोटासरा ने कहा कि बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया को अपने सांसदों और केन्द्रीय मंत्रियों के साथ केन्द्र सरकार से बात कर जनता के हित की आवाज उठानी चाहिए. उन्होंने कहा कि प्रदेश ने बीजेपी को 25 सांसद दिए और केन्द्र में राजस्थान से तीन मंत्री हैं लेकिन राज्य को उसके हक की ऑक्सीजन और दवाइयां नहीं मिल रही हैं. डोटासरा ने कहा कि राजस्थान के बेहतरीन कोरोना मैनेजमेंट की खुद प्रधानमंत्री ने भी तारीफ की है. उन्होंने कहा कि ये अवसर राजनीति का नहीं है. जिसकी जहां पर सरकार है वो वहां अपनी जिम्मेदारी निभाए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज