जयपुरः मकान मालिकों ने सुनी गुहार, माफ कर दिया इतने लाख का किराया....
Jaipur News in Hindi

जयपुरः मकान मालिकों ने सुनी गुहार, माफ कर दिया इतने लाख का किराया....
मकान मालिकों ने रूम रेंट माफ कर दिया है.

पहले ही दिन कई बेरोजगार अभ्यर्थियों को राहत मिली और मकान मालिकों ने हजारों रुपयों का किराया माफ कर दिया. बताया जा रहा है कि गांधीगिरी से खुश हुए मकान मालिकों ने अभियान के पहले ही दिन 1लाख 60 हजार रुपए का किराया बेरोजगारों का किराया माफ किया.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान की राजधानी जयपुर (Jaipur) में करीब डेढ़ लाख से ज्यादा अभ्यर्थी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते हैं. विभिन्न जिलों से यहां किराए (Rent) से रह कर अपनी पढ़ाई करने वाले अभ्यर्थियों पर लॉकडाउन की वजह से अब 3 महीने का किराया बकाया हो चुका है. ऐसे में अभ्यर्थी कई दिनों से ट्विटर पर "नो रूम रेंट और सॉरी फॉर रूम रेंट"की मुहिम चला रहे थे. इसके बाद अब इन्होंने बुधवार से ही गुलाब का फूल और मास्क देकर मकान मालिकों से किराया माफ करने की अपील का अभियान चलाया. पहले ही दिन कई बेरोजगार अभ्यर्थियों को राहत मिली और मकान मालिकों ने हजारों रुपयों का किराया माफ कर दिया. बताया जा रहा है कि गांधीगिरी से खुश हुए मकान मालिकों ने अभियान के पहले ही दिन 1लाख 60 हजार रुपए का किराया बेरोजगारों का किराया माफ किया.

बेरोजगार महासंघ ने बुधवार को हाथ जोड़कर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले बेरोजगारों का किराया माफ करने के अभियान की शुरुआत ज्योति नगर और सी स्कीम से की जिसमें उन्होंने पदम सिंह गुर्जर को फूल देकर बेरोजगारों का किराया माफ करने की गुहार की. एडवोकेट पदम सिंह ने स्टूडेंटस का 3 महीने का किराया 80 हजार रूपए माफ किया और कहा जब तक सामान्य स्थिति नहीं हो जाती तब तक बेरोजगारों से किराया नही लेंगे. वहीं, टोंक फाटक कल्याण कॉलोनी निवासी तारा पटेल ने 66 हजार रुपए का 9 बेरोजगार अभ्यर्थियों का 3 महीने का किराया माफ किया और मुहिम का समर्थन किया. वहीं महेश नगर सर्वोदय कॉलोनी में मोहन लाल मीणा ने बेरोजगारों का 10 हजार रूपए का किराया माफ किया गया.

मिली बड़ी राहत



अभियान के पहले दिन 1 लाख 60 हजार रुपए का बेरोजगारों का किराया माफ किया गया जिससे कई बेरोजगार अभ्यर्थियों को बड़ी राहत मिली है. राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के उपेन यादव ने मकान मालिको से और सरकार से प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले बेरोजगारों का किराया माफ करने की गुहार की है. इस अभियान में राजस्थान विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष अनिल चोपड़ा ने भी भाग लिया और पूरा सहयोग किया. महासंघ का कहना है कि इस अभियान को पूरे प्रदेश में टीम बनाकर चलाया जाएगा जिससे ज्यादा से ज्यादा बेरोजगारों को राहत मिल सके. Twitter और सोशल मीडिया के माध्यम से सरकार तक किराया माफ करने की आवाज बुलंद की जाएगी. हालांकि एक तरफ ऐसे मकान मालिक सामने आ रहे हैं जो बेरोजगार युवाओं को किराया माफ कर मदद कर रहे हैं और अपनी भलाई दिखा रहे हैं. तो वहीं दूसरी तरफ राजधानी में दोबारा लौटने वाले बेरोजगार युवाओं को कमरा किराए से देने से मना भी किया जा रहा है. कई मकान मालिक अब कोरोना का हवाला देते हुए रेंट पर कमरा देने से इंकार कर रहे हैं.


ये भी पढ़ें: 

भोपाल: कोरोना काल में बिजली विभाग का 'कारनामा', थंब इंप्रेशन मशीन से कर्मचारी लग रहे अटेंडेस 

Delhi-NCR में तूफान, तेज आंधी के साथ बारिश, गर्मी से मिली राहत 

 

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज