Jaipur: अपनों को लेने नेपाल बॉर्डर तक पहुंची राजस्थान रोडवेज, रचा इतिहास
Jaipur News in Hindi

Jaipur: अपनों को लेने नेपाल बॉर्डर तक पहुंची राजस्थान रोडवेज, रचा इतिहास
रविवार को 2 बसें बॉर्डर प्वाइंट महेंद्रगढ़-बनबासा से 69 प्रवासियों को लेकर राजस्थान के लिए रवाना हो गई हैं.

लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान प्रदेश से बाहर फंसे प्रवासी राजस्थानियों को उनके घर लाने में पिछले 2 माह से राजस्थान रोडवेज (Roadways) जुटी हुई है. इस बार रोडवेज ने इतिहास ही रच दिया है.

  • Share this:
जयपुर.  लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान प्रदेश से बाहर फंसे प्रवासी राजस्थानियों को उनके घर लाने में पिछले 2 माह से राजस्थान रोडवेज (Roadways) जुटी हुई है. इस बार रोडवेज ने इतिहास ही रच दिया है. रोडवेज बसें अपनों को लेने इस बार नेपाल बॉर्डर (Nepal border) तक पहुंच गई. ऐसा करके राजस्थान रोडवेज देश का पहला ऐसा निगम बन गया है, जिसने अपने राज्‍य वासियों को लाने के लिए अंतराष्ट्रीय बॉर्डर तक बसें चलाई हों.

रोडवेज सीएमडी नवीन जैन ने बताया कि तय कार्यक्रम के अनुसार 168 प्रवासी राजस्थानियों को उत्तराखंड नेपाल बॉर्डर से प्रदेश लाया जाएगा. रविवार को 2 बसें बॉर्डर प्वाइंट महेंद्रगढ़-बनबासा से 69 प्रवासियों को लेकर प्रदेश के लिए रवाना हो गई है. शेष 99 प्रवासियों को भी जल्द ही 4 बसों से प्रदेश लाया जाएगा.

राजस्थान रोडवेज को देखकर खिले चेहरे
उत्तराखंड-नेपाल बॉर्डर पर व्यवस्थाओं के मद्देनजर रोडवेज ने जयपुर डिपो के प्रबंधक संचालन मनीष गोयल को नोडल ऑफिसर बनाकर भेजा है. उन्होंने बताया कि जब बॉर्डर पर प्रवासियों ने राजस्थान रोडवेज की बसों को देखा तो उनके चेहरे खिल गए. बस में बैठते ही सभी ने राजस्थान सरकार और रोडवेज के लिए तालियां बजाई और धन्यवाद दिया.
श्रमिक बसें चलाने वाला देश का ज्य


मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर श्रमिक स्पेशल बसें चलाने वाला राजस्थान देश का पहला राज्य बना था. 18 मई से संचालित इन श्रमिक स्पेशल बसों से राजस्थान रोडवेज करीब 24,896 प्रवासी श्रमिकों को उनके गृह राज्य पहुंचा चुकी है. वहीं अन्य राज्यों से 3,091 प्रवासी राजस्थानियों को उनके घर लाने का काम किया है.

अभी ऑनलाइन बुकिंग से ही की जा रही है यात्राएं
पिछले दिनों लॉकडाउन-4 में रोडवेज ने कई मुख्य मार्गों पर अपनी बसों का संचालन भी शुरू कर दिया था. हालांकि अभी इन बसों में यात्रा करने वाले यात्रियों को ऑनलाइन ही बुकिंग करवानी पड़ रही है. रोडवेज तमाम सतर्कता के साथ अपनी बसों का संचालन कर रहा है. इस सप्ताह रोडवेज लगभग सभी रूट्स पर दौड़ने लगेंगी.

Rajasthan: जानिए क्या है बारिश और टिटहरी के अंडों के बीच का गणित ?

Rajasthan: 1 जून से शुरू होगा पर्यटन, 2 सप्ताह एंट्री रहेगी 'फ्री'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading