• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • UPSC 2020 Result: राजस्थान से RAS गौरव बुडानिया और रिया डाबी बनेंगे IAS, अजमेर के वैभव को मिली 25वीं रैंक

UPSC 2020 Result: राजस्थान से RAS गौरव बुडानिया और रिया डाबी बनेंगे IAS, अजमेर के वैभव को मिली 25वीं रैंक

यूपीएससी में सफल होने पर गौरव को उनके चाहने वालों ने बधाई दी.

यूपीएससी में सफल होने पर गौरव को उनके चाहने वालों ने बधाई दी.

सिविल सेवा परीक्षा (UPSC Main Exam Result) 2020 में राजस्थान (Rajasthan) के कई होनहारों ने बाजी मारी है. राजस्थान प्रशासनिक सेवा (RAS) की 2018 की परीक्षा में 12वीं रैंक हासिल करने वाले गौरव बुडानिया ने यूपीएससी में भी बाजी मारी है.

  • Share this:

जयपुर. यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन (UPSC) ने साल 2020 की परीक्षा के परिणाम घोषित कर दिए हैं. सिविल सेवा परीक्षा (UPSC Main Exam Result) 2020 में राजस्थान (Rajasthan) के कई होनहारों ने बाजी मारी है. राजस्थान प्रशासनिक सेवा (RAS) की 2018 की परीक्षा में 12वीं रैंक हासिल करने वाले गौरव बुडानिया (Gaurav Budaia) ने यूपीएससी में भी बाजी मारी है. यूपीएससी के बीते शुक्रवार को जारी परीक्षा परिणाम में उन्हें देशभर में 13वां स्थान मिला है. इनके साथ ही यूपीएससी 2016 बैच की टॉपर टीना डाबी (Tina Dabi) की बहन रिया डाबी (Riya Dabi) को भी इस परीक्षा में बड़ी सफलता मिली है. रिया ने 15वीं रैंक हासिल की है. 2016 में टीना डाबी ने अखिल भारतीय नंबर एक रैंक हासिल की थी. दोनों का आईएएस (IAS) बनना तय माना जा रहा है.

जबकि राजस्थान के अजमेर के रहने वाले वैभव रावत ने भी यूपीएससी की परीक्षा में कामयाबी हासिल की है. वैभव का देश में 25वीं रैंक है. अजमेर के ही जयंत सिंह ने इस परीक्षा में 52वां रैंक हासिल किया है. परीक्षा परिणाम जारी होने के बाद से ही इनके परिवार और जानने वालों में खुशी की लहर है. रिया की बहन आईएएस टीना डाबी ने ट्वीट कर अपनी बहन की सफलता की जानकारी लोगों को दी. रिया फिलहाल दिल्ली में ही हैं.

गौरव ने बताया सक्सेस मंत्र
यूपीएससी का परीक्षा परिणाम जारी होने के बाद गौरव ने बताया कि यह मायने नहीं रखता कि आप कितने घंटों तक पढ़ाई करते हैं. यह जरूरी है कि आप कितने डेडीकेशन के साथ अपनी पढ़ाई और अपने लक्ष्य में जुटे रहते हैं. उन्होंने कहा कि मेहनत और लगन के साथ एक प्रॉपर स्ट्रैटेजी के साथ पढ़ाई करना बेहद जरूरी है. तब जाकर के आईसीएस को क्रेक किया जा सकता है. इस परीक्षा में सफलता के लिए उन्होंने अपने गुरु रघुवीर सिंह, अपने माता पिता,परिवार और मित्रो को दिया. गौरव ने बताया कि जो व्यक्ति इस परीक्षा में सफल नहीं हो पाते है. उन्हें देखना यह चाहिए कि वह गलती कहां कर रहे हैं, जिससे भविष्य में उसे सुधारने के लिए प्रयत्न करना चाहिए और अपने प्रयत्नों को छोड़ने के बजाय उसे जारी रखने पर ध्यान देना चाहिए.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज