• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • वसुंधरा राजे का गहलोत सरकार पर तंज- हर दिन बलात्कार, कहां गुम है सरकार

वसुंधरा राजे का गहलोत सरकार पर तंज- हर दिन बलात्कार, कहां गुम है सरकार

फाइल

फाइल

पूर्व मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर गहलोत सरकार पर हमला बोला है.

  • Share this:
    राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर गहलोत सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में नारा दिया था ‘अब बदलेगा राजस्थान-नारी को मिलेगा सम्मान’. अब सच में बदल गया राजस्थान. शान्तिप्रिय राजस्थान अब 'अपराधिस्थान' बन गया है. राजे ने सवाल पूछते हुए कहा है कि ‘जहां हर दिन नारी का अपमान-क्या ये ही है नारी का सम्मान..?’

    पूर्व सीएम ने अलवर, भरतपुर, सीकर, झुंझुनूं सहित राजस्थान में बढ़ रही दुष्कर्म की घटनाओं को मानवता पर कलंक बताया है. उन्होंने कहा 'दुकान पर माचिस लेने गई बालिका से दुष्कर्म, शौच के लिए गई बच्ची का अपहरण, पति के सामने महिला से सामूहिक कुकर्म, मंदिर दर्शन के लिए जा रही युवती से सामूहिक दुष्कर्म जैसी ये ऐसी घटनाएं हम सब की चिंता बढ़ाती हैं.'

    राज्य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए वसुंधरा राजने कहा 'पिछले 4 माह में कोई ऐसा अखबार नहीं जिसमें क़रीब-क़रीब हर दिन दुष्कर्म की घटना का जिक्र ना हो. यही कारण है कि समाज का आम नागरिक हो या सत्ता से जुड़े लोग, हर कोई ऐसे कठोर कानून का समर्थन करता है जो मानवता को कलंकित कर देने वाली बर्बर सोच व दुस्साहस पर चोट कर सके'.



    उन्होंने कहा ‘हमारी भाजपा सरकार ने आवाम के इस दर्द को समझते हुए दुष्कर्म के आरोपियों को मृत्युदंड का प्रावधान किया था. जिसके बाद कई दुष्कर्मियों को त्वरित फांसी की सज़ा सुनवाकर समाज में सुरक्षा का माहौल प्रस्तुत किया गया. हमारी सरकार ने छोटी बेटियों से दुष्कर्म करने वालो के लिए मृत्युदंड का क़ानून बनाया, जिससे कई रेप करने वालों को फांसी की सज़ा सुनाई गई.



    उन्होंने कहा कि प्रदेश में जब से सत्ता परिवर्तन हुआ है. राजस्थान में आए दिन दुष्कर्म, हत्या व लूट की वारदातों को अंजाम दिया जा रहा है और कांग्रेस सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है.



    वसुंधरा राजे ने कहा ‘एक महिला होने के नाते मेरा राज्य सरकार से अनुरोध है कि ऐसे मामलों को दबाने की बजाय तुरंत संज्ञान लेकर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें. क्योंकि कानूनी लचरता के चलते अपराधियों में भय नहीं बल्कि दुस्साहस बढ़ता है और यह पूरी व्यवस्था के लिए अफसोस की बात है.

    ये भी पढ़ें- अलवर गैंगरेप : पति के सामने गैंगरेप और दरिंदगी के 14 दिन, पढ़ें- कब क्या हुआ?

    ये भी पढ़ें- अलवर गैंगरेप केस में पीड़िता का VIDEO यहां देखें

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज