लाइव टीवी

विधानसभा-सत्र: पहली बार प्रश्नकाल में आसन से पूछे गए मंत्रियों से सीधे सवाल
Jaipur News in Hindi

Sudhir sharma | News18 Rajasthan
Updated: February 11, 2020, 7:06 PM IST
विधानसभा-सत्र: पहली बार प्रश्नकाल में आसन से पूछे गए मंत्रियों से सीधे सवाल
प्रश्नकाल में आमतौर पर प्रश्नकर्ता MLA के सदन में मौजूद होने पर ही मंत्री सवाल का जवाब देते हैं. लेकिन अध्यक्ष ने विधायकों की गैर मौजूदगी के बावजूद मंत्रियों से सवालों के जवाब दिलवाए.

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी (Dr. CP Joshi) ने मंगलवार को अपने विशेषाधिकार का इस्तेमाल (Use of privilege) करते हुए मंत्रियों से सभी सवालों के जवाब दिलवाए. बीजेपी विधायकों (BJP MLAs) के हंगामे और प्रश्नकाल के बहिष्कार (Boycott of question hour) के बावजूद विधानसभा में प्रश्नकाल की कार्यवाही समुचित रूप से संपन्न करवाई गई.

  • Share this:
जयपुर. विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी (Dr. CP Joshi) ने मंगलवार को अपने विशेषाधिकार का इस्तेमाल (Use of privilege) करते हुए मंत्रियों से सभी सवालों के जवाब दिलवाए. बीजेपी विधायकों (BJP MLAs) के हंगामे और प्रश्नकाल के बहिष्कार (Boycott of question hour) के बावजूद विधानसभा में प्रश्नकाल की कार्यवाही समुचित रूप से संपन्न करवाई गई. इस दौरान डॉ. जोशी ने आसन से 6 सवाल मंत्रियों से पूछे और उनके पूरक प्रश्न भी पूछे. सदन में मौजूद दूसरे विधायकों को भी पूरक प्रश्न पूछने मौका दिया गया.

'छपाक' फिल्म से जुड़े सवाल पर हुआ हंगामा
विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान मंगलवार को बीजेपी विधायकों ने पूरक प्रश्न के मामले को लेकर जमकर हंगामा किया. 'छपाक' फिल्म से जुड़े सवाल पर आसन द्वारा पूरक प्रश्न पूछने से रोक दिए जाने पर बीजेपी विधायकों ने पहले वेल में आकर नारेबाजी की और उसके बाद प्रश्नकाल का बहिष्कार करते हुए सदन से बाहर चले गए. लेकिन इससे प्रश्नकाल की कार्यवाही पर कोई असर नहीं पड़ा. अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने अपने विशेषाधिकार का इस्तेमाल करते हुए प्रश्नकाल की कार्यवाही पूरी करवाई. प्रश्नकाल में बीजेपी विधायकों से जुड़े सवालों पर आसन से अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने खुद पूरक सवाल किए.

विधायकों की गैर मौजूदगी के बावजूद मंत्रियों से सवालों के जवाब दिलवाए

इसके साथ ही सदन में मौजूद दूसरे विधायकों को भी पूरक सवाल पूछने का मौका दिया गया. प्रश्नकाल में आमतौर पर प्रश्नकर्ता विधायक के सदन में मौजूद होने पर ही मंत्री सवाल का जवाब देते हैं. लेकिन अध्यक्ष ने विधायकों की गैर मौजूदगी के बावजूद मंत्रियों से सवालों के जवाब दिलवाए. खास बात यह भी रही कि आज तारांकित के तौर पर सूचीबद्ध किए गए सभी सवालों का जवाब मंत्रियों द्वारा सदन में दिया गया.

यह था पूरा मामला
प्रश्नकाल में विधायक शंकर सिंह रावत ने 'छपाक' फिल्म को कर मुक्त करने से हुई राजस्व हानि से जुड़ा पहला सवाल पूछा था. इसका मंत्री शांति धारीवाल ने सदन में जवाब दिया. लेकिन बाद में रावत ने पूरक सवाल के तौर पर फिल्म की अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के जेएनयू विवाद से जुड़ा प्रश्न किया, लेकिन आसन से अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने इसकी अनुमति नहीं दी. इस पर बीजेपी विधायकों की ओर से आपत्ति जताई गई. लेकिन अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने तल्खी दिखाते हुए स्पष्ट किया कि राजस्व से जुड़े सवाल का मंत्री द्वारा जवाब दे दिया गया है. सवाल यदि कल्चर से जुड़ा है तो कल्चर से जुड़े प्रश्न के दौरान इसका जवाब मिलेगा. 

 

अध्यक्ष ने इनको लगाई फटकार
बार-बार आपत्ति जताए जाने पर अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ और विधायक किरण माहेश्वरी को फटकार भी लगाई. आसन के रवैये से नाखुश होकर बीजेपी विधायकों ने पहले वेल में आकर तीन मिनट तक नारेबाजी की और उसके बाद प्रश्नकाल का बहिष्कार कर दिया. बीजेपी विधायक प्रश्नकाल के दौरान केवल 13 मिनट ही सदन में रहे.

 

 

ACB's Big Action: खैरवाड़ा SHO भंवर विश्नोई ढाई लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार

 

विधानसभा में BJP विधायक बोले- 'देश के गद्दारों को गोली भी मारेंगे और जूते भी'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 7:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर