विधानसभा-सत्र: विधेयकों पर चर्चा के दौरान जमकर मचा बवाल, 4 बार स्थगित करनी पड़ी सदन की कार्यवाही
Jaipur News in Hindi

विधानसभा-सत्र: विधेयकों पर चर्चा के दौरान जमकर मचा बवाल, 4 बार स्थगित करनी पड़ी सदन की कार्यवाही
सदन में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ को बाहर निकालने के मुद्दे पर गतिरोध बना रहा.

विधानसभा (Vidhan Sabha) में आज भी विधेयकों पर चर्चा के दौरान जमकर हंगामा हुआ. इसके कारण चार बार सदन की कार्यवाही को स्थगित (Adjourn) करना पड़ा.

  • Share this:
जयपुर. 15वीं विधानसभा (Vidhan Sabha) के पांचवें सत्र की तीसरी बैठक में सोमवार को विधेयकों को लेकर सदन में जमकर हंगामा (Fierce commotion) हुआ. हंगामा भी इस कदर बरपा कि आज भी सदन की कार्यवाही को चार बार स्थगित (Adjourn) करना पड़ा. हंगामा करने पर उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ (Rajendra Rathore) को सदन से बाहर निकालने के मंत्री के प्रस्ताव और बाद में अध्यक्ष के आदेश पर विपक्ष ने वहां जमकर बवाल काटा. इससे सदन में गतिरोध पैदा हो गया. बाद में विपक्ष वॉकआउट कर सदन से निकल गया. हंगामे के बीच दोपहर तक सात विधेयक पारित किये जा सके.

धारीवाल ने रखा राठौड़ को बाहर निकालने का प्रस्ताव
विधानसभा की कार्यवाही सुबह 11 बजे शुरू हुई हुई. आज सरकार की ओर से 8 विधेयक लाये जाने थे. लेकिन इससे पहले कार्य सलाहकार की हुई बैठक में पांच नये विधेयक लाने का प्रस्ताव तैयार किया गया. इस पर विपक्षी बीजेपी ने आपत्ति जताई. सदन के पटल पर 13 विधेयक रखने पर शुरुआत में ही हंगामा हो गया. हंगामा बढ़ने पर आसन ने सदन की कार्यवाही को कुछ समय के लिये स्थगित कर दिया. दुबारा सदन जुटने पर भी हालात वे ही रहे. इस स्वायत शासन मंत्री शांति धारीवाल ने हंगामा कर रहे उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ को सदन से बाहर निकालने का प्रस्ताव रखा. हालात को देखते हुए अध्यक्ष ने उनके प्रस्ताव को मान लिया और राठौड़ को बाहर जाने के लिये कहा.

Udaipur: बारिश के मौसम में पहाड़ों पर उतरे ये बादल और झीलें मोह रही हैं मन को, देखें PHOTOS
विपक्ष ने किया सदन से वॉकआउट


इस पर सदन में फिर हंगामा हो गया और बीजेपी विधायक वेल में आकर हंगामा करने लगे. उपनेता प्रतिपक्ष राठौड़ को बाहर निकालने के मसले पर सदन में गतिरोध पैदा हो गया. लिहाजा आसन ने एक बार फिर सदन की कार्यवाही को स्थगित कर दिया. लेकिन सदन के दुबारा जुटने पर सत्ता पक्ष आसन के आदेश को अमल पर लाने पर अड़ गया, जिससे गतिरोध कायम रहा. इस बीच हो हल्ले और हंगामे के दौरान करीब सात विधेयक पारित हो गये. इनमें कुछ पर चर्चा हई और कुछ पर नहीं हुई. अंतत: नेता प्रतिपक्ष गुलाबंचद कटारिया ने कहा एक ही दिन में 5 नए बिल लाने के खिलाफ है हमारा वाकआउट है. यह कहकर बीजेपी विधायकों ने सदन की कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया और बाहर निकल गये. बीजेपी विधायक अब आज आगे की कार्यवाही में हिस्सा नहीं लेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज