Home /News /rajasthan /

पहली बार छत्तीसगढ़ से राजस्थान पहुंचा बेहद दुर्लभ हिरण, जानें क्यों है ये इतना खास

पहली बार छत्तीसगढ़ से राजस्थान पहुंचा बेहद दुर्लभ हिरण, जानें क्यों है ये इतना खास

बेहद दुर्लभ हिरण चौसिंगा के दो जोड़े छत्तीसगढ़ से पहुंचे राजस्थान.

बेहद दुर्लभ हिरण चौसिंगा के दो जोड़े छत्तीसगढ़ से पहुंचे राजस्थान.

Jaipur News: पहली बार छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जू से जयपुर दुर्लभ हिरण चौसिंगा (chousingha deer) लाया गया है. राजस्थान के जंगलों में भी लुप्त होने के कगार पर पहुंच चुके चौसिंगा के दो जोड़े को नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क लाया गया. बदले में राजस्थान के चिंकारा हिरण के दो जोड़े छत्तीसगढ़ भेजे गए है.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. देशभर के जंगलों में लगातार घटते जा रहे बेहद दुर्लभ हिरण चौसिंगा (Four-horned antelope) के दो जोड़े छत्तीसगढ़ से राजधानी जयपुर लाए गए हैं. बेहद कम होते जा रहे इस हिरण की खास बात यह है कि इसके दो की जगह चार सींग होते हैं. कद काठी में यह हिरण दूसरे हिरणों से काफी छोटा होता है. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बिलासपुर जू (Bilaspur Zoo) से लाए गए इस जोड़े को करीब दो दिन के सफर के बाद जयपुर लाया गया है. अभी चारों हिरण को 21 दिन तक क्वारंटीन में रख आम पर्यटकों की नजर से दूर रखा जाएगा. चौसिंगा को फोर होर्न्ड  एंटीलॉप भी कहा जाता है.

देशभर के जंगलों में इसकी तादाद बेहद तेजी से घट रही है, ऐसे बायोलॉजिकल पार्क और चिड़ियाघरों में इसके प्रजनन के जरिए इसकी आबादी को बचाने के प्रयास किए जा रहे हैं. राजस्थान में अन्य सभी हिरणों की प्रजाति के मुकाबले सबसे कम तादाद चौसिंगा हिरण  (Four-horned antelope) की ही है.

200 से भी कम थी तादाद

कुछ साल पहले प्रदेश में इनकी तादाद 200 से भी कम बची थी, लेकिन अब इनकी तादाद 487 के करीब पहुंच गुई है. ऐसे में राजधनी जयपुर में लाए गए इस हिरन ही तादाद को कोशिश की जाएगी कि प्रजनन के जरिए ज्यादा से ज्यादा बढ़ाया जाए.

chousingha, chausingha deer, chausingha in india Four horned antelope, Four horned antelope in India, chousingha in rajasthan, chousingha found in which national park,  rajasthan news, jaipur taja samachar,Nahargarh Biological Park

अभी चारों हिरण को 21 दिन तक क्वारंटीन में रख आम पर्यटकों की नजर से दूर रखा जाएगा. चौसिंगा को फोर होर्न्ड एंटीलॉप भी कहा जाता है.

पढ़ें जरूरी खबर

राजस्थान में इस बार दिवाली (Diwali 2021) पर ग्रीन पटाखे चलाने की छूट मिली है. नियमों के खिलाफ पटाखे बेचने और चलाने पर भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है. राजस्थान सरकार ने अधिसूचना भी जारी कर दी है. इसके तहत नियमों के खिलाफ पटाखे बेचने पर 10000 रुपए और चलाने पर 2000 रुपए का जुर्माना लगेगा. दिवाली पर सरकार ने पटाखे छोड़ने के लिए दो घंटे का समय तय किया है. इसके तहत रात 8 बजे से 10 बजे तक ही पटाखे छोड़े जा सकेंगे. नियमों का उल्लंघन ना हो इसके लिये सरकार निगरानी की व्यवस्था करेगी.

ये भी पढ़ें: Chhattisgarh News: कांग्रेस के हारे हुए नेताओं को पार्टी नहीं दे रही ‘भाव’, रायपुर में सीक्रेट मीटिंग
राजस्थान सरकार ने दिवाली पर दो घंटे ग्रीन पटाखे चलाने की अनुमति दी है. इसके तहत राज्य सरकार की ओर से प्रदेश के एनसीआर क्षेत्र को छोड़कर दिवाली पर रात 8 से 10 बजे तक दो घंटे ग्रीन पटाखों को चलाने की अनुमति दी गई है. इसके साथ ही क्रिसमस एवं नववर्ष पर रात 11.55 से 12.30 बजे तक, गुरू पर्व पर रात 8 से 10 बजे तक और छठ पर्व पर सुबह 6 से 8 बजे तक सिर्फ ग्रीन पटाखे चलाने की अनुमति दी गई है. गृह विभाग ने इस संबंध में पहले भी आदेश जारी किए थे. उसके बाद शनिवार को संशोधित आदेश जारी किए गए हैं.

Tags: Jaipur news, Rajasthan news in hindi, Viral Photo, Wild life

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर