मौसम विभाग की चेतावनी- आज इन 22 जिलों में हो सकती है भारी बारिश, संभलकर निकले घर से

प्रदेश के दक्षिण-पूर्वी जिलों समेत विभिन्न इलाकों में चल रहे मसूलाधार बारिश (heavy rains) के बीच मौसम विभाग ने 22 जिलों में शुक्रवार को फिर भारी बारिश (warning of meteorological Department) की चेतावनी जारी की है.

News18 Rajasthan
Updated: August 16, 2019, 9:14 AM IST
मौसम विभाग की चेतावनी- आज इन 22 जिलों में हो सकती है भारी बारिश, संभलकर निकले घर से
राजस्थान के कई इलाकों में चल रहा है भारी बारिश का दौर। फाइल फोटो
News18 Rajasthan
Updated: August 16, 2019, 9:14 AM IST
प्रदेश के दक्षिण-पूर्वी जिलों समेत विभिन्न इलाकों में चल रहे मसूलाधार बारिश  (heavy rains) के बीच मौसम विभाग ने 22 जिलों में शुक्रवार को फिर भारी बारिश (warning of meteorological Department) की चेतावनी जारी की है. मौसम विभाग के अनुसार कोटा, सवाई माधोपुर, बूंदी, झालावाड़, बारां, करौली, भीलवाड़ा, उदयपुर, धौलपुर, जयपुर, टोंक, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, अलवर, भरतपुर, सीकर, अजमेर, नागौर, हनुमानगढ़, जोधपुर और चूरू जिलों में भारी बारिश हो सकती है. कई जिलों में पहले से ही बाढ़ के हालात (flood situation)बने हुए हैं.

इन जिलों में चल रहा है बारिश का दौर
इनमें से कोटा संभाग, प्रतापगढ़, पाली और डूंगरपुर समेत कई अन्य जिलों में भारी बारिश का दौर जारी है. प्रतापगढ़ में भारी बारिश के चलते विद्यालयों में 2 दिन का अवकाश घोषित किया गया है. जिले में अब तक 900 एमएम से अधिक बारिश हो चुकी है. वहीं डूंगरपुर जिले में बीते 24 घंटों में 58 एमएम बारिश हुई है. वहां वैंजा में 4 इंच, धम्बोला में साढ़े तीन इंच, गलियाकोट, आसपुर, निठाउवा में ढाई-ढाई इंच और कनबा, गणेशपुर व साबला में भी दो-दो इंच से अधिक बारिश दर्ज की गई है. टाेंक में भी भारी बारिश के कारण हालात बिगड़े हुए हैं.

भीलवाड़ा में भी स्कूलों में अवकाश घोषित किया

भीलवाड़ा जिले में भी अत्यधिक बारिश के कारण सभी स्कूलों में शुक्रवार का अवकाश घोषित कर दिया गया है. जयपुर में पिछले तीन दिन से रुक-रुककर बारिश का दौर जारी है. बारिश के कारण प्रदेश के नदी नाले उफान पर हैं.

राजस्थान में हाड़ौती के साथ-साथ पाली में भी बाढ़ के हालात 

बाढ़ के चलते 5 जिलों में स्कूल बंद, राहत के लिए बुलाई गई सेना
First published: August 16, 2019, 9:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...