Home /News /rajasthan /

फिर गरजे मेघ, कहीं राहत तो कहीं आसमान से बरसी आफत

फिर गरजे मेघ, कहीं राहत तो कहीं आसमान से बरसी आफत

राज्य में एक बार फिर मौसम ने अचानक करवट बदली है. प्रदेश में मौसम में यह उलटफेर 15 दिनों में दूसरी बार हुई है. कई दिनों से जारी तापमान में हो रही बढ़ोत्तरी के बाद रविवार देर रात शुरू हुई ठण्डी हवाओं के साथ बारिश ने राज्य के तापमान में गिरावट दर्ज की गई. वहीं राजधानी मे देर रात बारिश का दौरा जारी रहा. बिजली की गड़गड़ाहट के बीच तेज हवाओं के साथ जोरदार बारिश ने राजधानी के लोगों को गर्मी से राहत की सांस दिलाई. वहीं ग्रामीण इलाकों में बारिश से तैयार और कटी फसल के नुकसान की चिंता ने किसानों को आहत किया.

राज्य में एक बार फिर मौसम ने अचानक करवट बदली है. प्रदेश में मौसम में यह उलटफेर 15 दिनों में दूसरी बार हुई है. कई दिनों से जारी तापमान में हो रही बढ़ोत्तरी के बाद रविवार देर रात शुरू हुई ठण्डी हवाओं के साथ बारिश ने राज्य के तापमान में गिरावट दर्ज की गई. वहीं राजधानी मे देर रात बारिश का दौरा जारी रहा. बिजली की गड़गड़ाहट के बीच तेज हवाओं के साथ जोरदार बारिश ने राजधानी के लोगों को गर्मी से राहत की सांस दिलाई. वहीं ग्रामीण इलाकों में बारिश से तैयार और कटी फसल के नुकसान की चिंता ने किसानों को आहत किया.

राज्य में एक बार फिर मौसम ने अचानक करवट बदली है. प्रदेश में मौसम में यह उलटफेर 15 दिनों में दूसरी बार हुई है. कई दिनों से जारी तापमान में हो रही बढ़ोत्तरी के बाद रविवार देर रात शुरू हुई ठण्डी हवाओं के साथ बारिश ने राज्य के तापमान में गिरावट दर्ज की गई. वहीं राजधानी मे देर रात बारिश का दौरा जारी रहा. बिजली की गड़गड़ाहट के बीच तेज हवाओं के साथ जोरदार बारिश ने राजधानी के लोगों को गर्मी से राहत की सांस दिलाई. वहीं ग्रामीण इलाकों में बारिश से तैयार और कटी फसल के नुकसान की चिंता ने किसानों को आहत किया.

अधिक पढ़ें ...
राज्य में एक बार फिर मौसम ने अचानक करवट बदली है. प्रदेश में मौसम में यह उलटफेर 15 दिनों में दूसरी बार हुई है. कई दिनों से जारी तापमान में हो रही बढ़ोत्तरी के बाद रविवार देर रात शुरू हुई ठण्डी हवाओं के साथ बारिश ने राज्य के तापमान में गिरावट दर्ज की गई. वहीं राजधानी मे देर रात बारिश का दौरा जारी रहा. बिजली की गड़गड़ाहट के बीच तेज हवाओं के साथ जोरदार बारिश ने राजधानी के लोगों को गर्मी से राहत की सांस दिलाई. वहीं ग्रामीण इलाकों में बारिश से तैयार और कटी फसल के नुकसान की चिंता ने किसानों को आहत किया.
उल्‍लेखनीय है कि पिछलें दिनों राज्य में हुई भारी बारिश व ओलावृष्टि से राज्य के लगभग 65 फीसदी फसलों को नुकासन पंहुचा था. उसके बाद रविवार देर रात हुई बारिश से तापमान में तो राहत दी है वही किसानों को एक बार फिर से चिंता बढा दी. इससे पूर्व हुई बारिश से लगभग सभी प्रमुख फसलें तबाह हो गई थी और अब बची फसलों पर भी संकट के बादल मड़राने लगे हैं. मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि 29 मार्च व 30 मार्च को राज्य में भारी बारिश व ओलावृष्टि होने की संभावना है.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर