Weather Update: राजस्थान में न्यूनतम तापमान में 3 डिग्री की वृद्धि, इन जिलों में शीतलहर की संभावना

पर्यटक स्थल माउंट आबू (Mount Abu) रविवार को दो डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ सबसे ठंडा स्थान रहा. (सांकेतिक फोटो)

Weather Alert: मौसम विभाग ने मंगलवार को अलवर, झुंझुनूं, सीकर, बीकानेर, चूरू, हनुमानगढ़, नागौर, श्रीगंगानगर जिलो में तेज शीतलहर (Cold Wave) चलने के साथ पाला पड़ने की संभावना जताई है.

  • Share this:
    जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) के अधिकतर हिस्सों में न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी दर्ज की गई है. मौसम विभाग ने मंगलवार और बुधवार को राज्य के कई जिलों में शीतलहर (cold wave) और पाला पड़ने के पूर्वानुमान के मद्देनजर ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है. मौसम विभाग के अनुसार राज्य का एक मात्र पर्वतीय पर्यटक स्थल माउंट आबू (Mount Abu) रविवार को दो डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ सबसे ठंडा स्थान रहा.

    विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि श्रीगंगानगर में न्यूनतम तापमान 6.2 डिग्री सेल्सियस, अलवर में 7.2 डिग्री सेल्सियस, सवाईमाधोपुर में 7.5 डिग्री सेल्सियस, चूरू में 7.6 डिग्री सेल्सियस, भीलवाड़ा में 7.8 डिग्री, पिलानी में 8.1 डिग्री, डबोक में 8.2 डिग्री, जयपुर में 8.6 डिग्री सेल्सियस, वनस्थली में 9.1 डिग्री सेल्सियस, कोटा-बूंदी में 9.8-9.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. उन्होंने बताया कि राज्य के अधिकतर हिस्सों में अधिकतम तापमान 21.8 डिग्री सेल्सियस से लेकर 29.6 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया. विभाग ने मंगलवार को अलवर, झुंझुनूं, सीकर, बीकानेर, चूरू, हनुमानगढ़, नागौर, श्रीगंगानगर, जिलो में तेज शीतलहर चलने के साथ पाला पड़ने की संभावना जताई है.

    ठंड के कारण बढ़ेंगी परेशानियां
    भारत मौसम विज्ञान विभाग का कहना है कि अगले कुछ दिन में उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ने वाली है. ऐसे में घर में बैठे-बैठे या नए साल की पार्टी में शराब पीना बहुत नुकसानदेह हो सकता है. प्रभाव आधारित अपने ताजा सलाह में मौसम विभाग ने कहा है कि 28 दिसंबर से हरियाणा, दिल्ली उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान में ‘भयंकर’ शीतलहर चलने का अनुमान है और इस दौरान फ्लू, जुकाम, नाक से खून निकलने जैसी समस्याएं होने की आशंका है. और जो ऐसे दिक्कतों से जूझ रहे हैं लंबे समय तक ठंड रहने के कारण उनकी परेशानियां भी बढ़ेंगी. वहीं, परामर्श में कहा गया है, ‘‘शराब ना पिएं. इससे आपके शरीर का तापमान कम होता है.’’ उसमें कहा गया है, ‘‘घर के भीतर रहें. विटामिन सी युक्त फलों का सेवक करें, अपनी त्वचा को नरम रखें ताकि कड़ाके की ठंड के प्रभाव से बचा जा सके.’’