अपना शहर चुनें

States

Rajasthan weather update: पश्चिमी विक्षोभ का असर, राजस्थान के कई इलाकों में बारिश से बढ़ी सर्दी

बारिश के कारण एक तरफ जहां पारा गिर जाने के कारण सर्दी बढ़ गई. वहीं दूसरी तरफ इसने शादियों में भी काफी खलल डाला.(सांकेतिक तस्वीर)
बारिश के कारण एक तरफ जहां पारा गिर जाने के कारण सर्दी बढ़ गई. वहीं दूसरी तरफ इसने शादियों में भी काफी खलल डाला.(सांकेतिक तस्वीर)

Rajasthan weather update: राजस्थान में पश्चिमी विक्षोभ (Western disturbance) के असर के कारण बुधवार रात को और गुरुवार को सुबह कई इलाकों में बारिश (Rain) का दौर चला. इससे सर्दी का असर बढ़ गया.

  • Share this:
जयपुर. पश्चिमी विक्षोभ (Western disturbance) के सक्रिय होने के चलते राजस्थान में मौसम ने एक बार फिर पलटा खाया है. बदले मौसम (Weather) के कारण बुधवार रात से गुरुवार को सुबह तक कई इलाकों में हल्की बारिश (Rain) हुई. इससे तापमान में गिरावट आ गई और सर्दी का असर बढ़ गया. राजधानी जयपुर में गुरुवार को सुबह बारिश हुई. वहीं इससे पहले चित्तौड़, कोटा, दौसा और अजमेर के पुष्कर में बारिश का दौर चला. बारिश के बाद शीतलहर से ठंड बढ़ गई. बारिश से चना व सरसों की फसल को फायदा होगा.

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने का असर प्रदेश में बुधवार को नजर आने लग गया था. बुधवार को जयपुर समेत प्रदेश के कई इलाकों में दिनभर बादल छाये रहे. उसके बाद कहीं-कहीं हल्की तो कहीं-कहीं तेज बारिश हुई. चित्तौड़गढ़ शहर में बुधवार शाम को बादलों की गर्जना के साथ तेज बारिश हुई. उसके बाद कोटा में भी मौसम का मिजाज बदल गया. कोटा में शहर के कई इलाकों में हल्की बारिश हुई. अजमेर के पुष्कर में रात को बारिश का दौर चला. वहां बारिश के कारण बिजली भी गुल हो गई. उसके बाद आधी रात करीब 2 बजे दौसा में हल्की बारिश की झड़ी लग गई. गुरुवार तड़के राजधानी जयपुर के कई हिस्सों में बारिश का सिलसिला शुरू हो गया.

Rajasthan: BJP-RLP में ये यह कैसा गठबंधन ! हनुमान बेनीवाल साध रहे पूर्व सीएम राजे पर निशाना

पारा गिर जाने के कारण सर्दी बढ़ी


बारिश के कारण एक तरफ जहां पारा गिर जाने के कारण सर्दी बढ़ गई. वहीं दूसरी तरफ बारिश ने शादियों में भी काफी खलल डाला. बुधवार को देवऊठनी एकादशी होने के कारण प्रदेशभर में हजारों शादियां थी. कोरोना के कारण परेशानियों के बीच आयोजित हो रहे शादी समारोह में बारिश ने कोढ़ में खाज का काम किया. अजमेर के पुष्कर में तो बारिश के कारण बिजली गुल हो जाने से लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा.

24 और 25 नवंबर को पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की संभावना जताई थी
उल्लेखनीय है कि मौसम विभाग ने 24 और 25 नवंबर को पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की संभावना जताते हुये राजस्थान के पश्चिमी हिस्से में कई जगह बारिश होने के आसार बताये थे. मौसम विभाग ने इसके असर के कारण प्रदेश के कई हिस्सों में आसमान में बादल छाए रहने के साथ ही हल्की बारिश की संभावना जताई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज