होम /न्यूज /राजस्थान /Weather update: राजस्थान में हाड़ गलाने वाली सर्दी ने निकाला दम, फतेहपुर में पारा माइनस 1.8 डिग्री

Weather update: राजस्थान में हाड़ गलाने वाली सर्दी ने निकाला दम, फतेहपुर में पारा माइनस 1.8 डिग्री

इससे पहले तीन जनवरी से पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव में दिल्ली के आसमान पर बादल छाये रहने की वजह से कुछ दिन तक न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक दर्ज किया गया था. (डेमो पिक्चर)

इससे पहले तीन जनवरी से पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव में दिल्ली के आसमान पर बादल छाये रहने की वजह से कुछ दिन तक न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक दर्ज किया गया था. (डेमो पिक्चर)

राजस्थान में हाड़ गला देने वाली सर्दी (Winter) ने लोगों को घरों में दुबके रहने के लिये मजबूर कर दिया है. शेखावाटी के फत ...अधिक पढ़ें

जयपुर. मरुधरा में सर्दी (Winter) का प्रकोप बरकरार है. हाड़ कंपाने वाली सर्दी से जनजीवन खासा प्रभावित हो रहा है. रोजाना पारे में गिरावट (Temperature drop) दर्ज की जा रही है. मौसम विभाग ने 9 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट (Orange alert) जारी किया है. प्रदेश के शेखावाटी इलाके में पारा जमाव बिन्दु से नीचे पहुंच गया है. यहां फतेहपुर में पारा माइनस 1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. प्रदेश के कई हिस्सों में कोहरे का भी प्रकोप देखा जा रहा है.

मौसम विभाग के अनुसार, प्रदेश के 9 जिलों में शीतलहर चलने और कोल्ड-डे रहने की संभावना है. मौसम विभाग के मुताबिक श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, बीकानेर, चूरू, अलवर, भरतपुर, सीकर और झुंझुनूं में शीतलहर चल सकती है. शीतलहर के कारण सर्दी और बढ़ सकती है.

RAS Recruitment Exam-2018: हाई कोर्ट ने मुख्य परीक्षा का परिणाम किया रद्द, कहा- दुबारा जारी करें

पेड़-पौधों पर ओस की बूंदें बर्फ में बदलीं
अलवर में पाला जमने से तेज सर्दी का सितम जारी है. ग्रामीण क्षेत्रों में पाला जमने से फसलों को नुकसान होने की आशंका व्यक्त की जा रही है. लोग अलाव ताप कर सर्दी से बचाव कर रहे हैं. वहीं, श्रीगंगानगर कंपकंपाती सर्दी से लोग घरों में दुबके हुये हैं. तापमान गिरने से ठिठुरन बढ़ी हुई है. लोग सर्दी से बचने के लिए अलाव का सहारा ले रहे हैं. शेखावाटी भी सर्दी जमकर सितम ढा रही है. यहां सीकर जिले में फतेहपुर शेखावाटी में पारा जमाव बिंदु के नीचे पहुंच गया है. फतेहपुर में पारा माइनस 1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. इससे आम जनजीवन प्रभावित हुआ है. पारा जमाव बिन्दु से नीचे जाने के कारण पेड़-पौधों पर ओस की बूंदें बर्फ में बदल गई हैं.

जरूरी सलाह
विशेषज्ञों के अनुसार, ज्यादा समय तक सर्दी में रहने से बचना चाहिए. सिर, गला, हाथ और पैरों को कवर करके रखना चाहिए, ताकि शरीर की गर्मी की कमी न होने पाए. कड़ाके की सर्दी के दौरान आवश्यक होने पर ही बाहर निकलना चाहिए.

Tags: Weather Alert, Weather forecast, Weather Update, Winter

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें