Rajasthan Weather Updates: जोरदार बारिश और ओलावृष्टि ने बढ़ाई ठंडक, पारा गिरा

हालांकि कृषि विभाग ने अभी तक नुकसान का आंकलन नहीं किया है, लेकिन बताया जा रहा है कि बेमौसम हुई ओलावृष्टि ने किसानों पर कहर बरपाने में कोई कमी नहीं छोड़ी है.
हालांकि कृषि विभाग ने अभी तक नुकसान का आंकलन नहीं किया है, लेकिन बताया जा रहा है कि बेमौसम हुई ओलावृष्टि ने किसानों पर कहर बरपाने में कोई कमी नहीं छोड़ी है.

Change in weather: राजस्‍थान के विभिन्न इलाकों में रविवार को हुई जोरदार बारिश (Rain) ने सर्दी बढ़ा दी है. ओलावृष्टि ने अंकुरित हो रही फसलों को काफी नुकसान पहुंचाया है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के विभिन्न इलाकों में रविवार को अचानक पलटे मौसम (Change in weather) के चलते पारा गिर गया है. जोरदार बारिश और ओलावृष्टि से ठंडक बढ़ गई. ठंडक ने लोगों को घरों में दुबके रहने के लिए मजबूर कर दिया है. बारिश के साथ हुई ओलावृष्टि ने एक तरफ जहां फसलों को खासा नुकसान (Loss) पहुंचाया है. वहीं, सर्दी के तेवर तीखे हो गये हैं. तूफान के कारण राजधानी जयपुर में दिवाली के मौके पर लगाये गये सजावटी गेट्स गिर गये. ग्रामीण इलाकों में कई छप्पर उड़ गये. पश्चिमी विक्षोभ के कारण मौसम में आये इस बदलाव के अब तापमान में 2 से 3 डिग्री तक तापमान में गिरावट आने की संभावना जताई गई है.

हालांकि, इस बारिश से रबी की फसल को फायदा होगा, लेकिन ओलावृष्टि ने किसानों की चिंता को बढ़ा दिया है. इस बारिश से चना और सरसों की फसलों को फायदा होगा. वहीं, बुवाई में लेट हो चुके किसानों को भी इसका लाभ मिलेगा. जमीन में नमी आने के कारण अब वे बुवाई कर सकेंगे. इस बारिश से किसानों को जौ और गेहूं की बुवाई करने का मौका मिल गया है, लेकिन बारिश के साथ हुई ओलावृष्टि से अंकुरित फसल को बड़ा नुकसान हो सकता है. जहां ज्यादा बड़े ओले गिरे हैं, वहां फसलों को ज्यादा नुकसान की आशंका है. कृषि विभाग ने अभी तक नुकसान का आंकलन नहीं किया है, लेकिन बताया जा रहा है कि बेमौसम हुई ओलावृष्टि ने किसानों पर कहर बरपाने में कोई कमी नहीं छोड़ी है.

Udaipur: चाय की थड़ी वाले ने सोशल मीडिया की मदद से बिजनेस में लगाई ऊंची छलांग, जानें पूरी कहानी




सड़कों पर ओलों की चादर बिछी
उल्लेखनीय है कि रविवार को दोपहर में राजधानी जयपुर समेत राज्य के विभिन्न इलाकों में मौसम में अचानक आये बदलाव के कारण जोरदार बारिश होने के साथ ही ओलावृष्टि हुई है. करीब आधे घंटे तक चले इस तूफान की वजह से सड़कों पर ओलों की चादर बिछ गई थी. तूफान की गति देखकर लोग एकबारगी सहम गये थे. इस तूफान ने जयपुर में कई जगह दीपावली की सजावट के लिये लगाये गये सजावटी गेट गिरा दिये थे. गनीमत यह रही कि जान माल को कोई नुकसान नहीं हुआ. इस तूफान ने कई पेड़ों और बिजली के पोल गिरा दिये हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज