• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Monsoon Break: राजस्थान में कमजोर पड़ा मानसून, 20 अगस्त से फिर होगा सक्रिय, कई इलाके अभी भी सूखे

Monsoon Break: राजस्थान में कमजोर पड़ा मानसून, 20 अगस्त से फिर होगा सक्रिय, कई इलाके अभी भी सूखे

राजस्थान के हाड़ौती इलाके में पिछले दिनों हुई भारी बारिश से बूंदी में कई इलाके पूरी तरह से पानी में डूब गये थे. (फाइल फोटो )

राजस्थान के हाड़ौती इलाके में पिछले दिनों हुई भारी बारिश से बूंदी में कई इलाके पूरी तरह से पानी में डूब गये थे. (फाइल फोटो )

Rajasthan Weather Updates: राजस्थान में मानसून ने करीब 8 दिन का ब्रेक ले लिया है. इसके आगामी 20 अगस्त को फिर से सक्रिय होने के आसार है. राजस्थान में गत 6 अगस्त तक औसत से 23 फीसदी ज्यादा बारिश हो चुकी है. लेकिन फिर भी कई इलाके अभी सूखे पड़े हैं.

  • Share this:

    जयपुर. मानसून (Monsoon) का सक्रिय तंत्र कमजोर पड़ने से राजस्थान में बारिश का सिलसिला थम गया है. मौसम विभाग (Weather department) के मुताबिक अब 20 अगस्त से यह तंत्र फिर से सक्रिय होगा. उसके बाद फिर से बारिश (Rain) का सिलसिला शुरू होगा. राजस्थान में 6 अगस्त तक औसत से 12 फीसदी ज्यादा बारिश हो चुकी है. इस अवधि तक पूर्वी राजस्थान (East Rajasthan) में जहां औसत से 23 फीसदी ज्यादा बारिश हो चुकी थी, वहीं पश्चिमी राजस्थान में यह 6 फीसदी कम हुई थी. हाड़ौती संभाग में भारी बारिश के चलते वहां के लोगों को बाढ़ का दंश भी झेलना पड़ा. वहां भारी बारिश से बूंदी और झालावाड़ जिले में जान माल का काफी खराब हुआ.

    राजस्थान में इस बार मानसून ने अपने निर्धारित समय से करीब 10 दिन पहले ही दस्तक दे दी थी लेकिन शुरुआती दिनों में यह बेहद सुस्त रहा. जुलाई के अंतिम सप्ताह में मानसून ने रफ्तार पकड़नी शुरू की और प्रदेश के विभिन्न इलाकों में अच्छी बारिश हुई.

    कई इलाकों में बाढ़, अच्छी बारिश को तरसे जोधपुर संभाग के जिले
    वहीं हाड़ौती अंचल और पूर्वी राजस्थान के भरतपुर तथा धौलपुर में जबर्दस्त बारिश हुई. भारी बारिश से कोटा संभाग के कई इलाकों में बाढ़ आ गई. खासकर बूंदी और झालावाड़ में तो भारी बारिश ने जमकर तबाही मचाई. . राजस्थान में औसत से ज्यादा बारिश होने के बावजूद जोधपुर संभाग अभी अच्छी बारिश को तरस रहा है. वहां किसानों को बारिश का इंतजार है.

    हाड़ौती में लोगों ने राहत की सांस ली
    इसके साथ ही इस इलाके से सटे मध्यप्रदेश में भी भारी बारिश होने से अंचल की नदियां उफान मारने लगी. बांधों के गेट खोलकर अतिरिक्त पानी की निकासी करनी पड़ी. भारी बारिश से हाड़ौती में करोड़ों रुपये की फसलें पानी में डूब गईं. गत दो-तीन दिन से बारिश का दौर थमने से लोगों ने राहत की सांस ली है. पिछले दो दिन से राजस्थान में मानसून की गतिविधियां बिल्कुल नहीं हुई. सभी जगह मौसम खुला हुआ है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज