लाइव टीवी

अब सीएस मीणा और उनकी पत्नी के बीच घरेलू हिंसा मामले को सुलझाएंगे रिटायर्ड जज

Pradesh18
Updated: January 4, 2017, 5:00 PM IST
अब सीएस मीणा और उनकी पत्नी के बीच घरेलू हिंसा मामले को सुलझाएंगे रिटायर्ड जज
फोटो-(ईटीवी)

राजस्थान के मुख्य सचिव ओपी मीणा से जुड़े घरेलू हिंसा और दहेज प्रताड़ना के मामले में अब हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज सुनील गर्ग मध्यस्थता करेंगे.

  • Pradesh18
  • Last Updated: January 4, 2017, 5:00 PM IST
  • Share this:
राजस्थान के मुख्य सचिव ओपी मीणा से जुड़े घरेलू हिंसा और दहेज प्रताड़ना के मामले में अब हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज सुनील गर्ग मध्यस्थता करेंगे.

इस मामले में बुधवार को मीडिएशन की कार्रवाई की गई. इस दौरान करीब डेढ़ घंटे तक मध्यस्थता केंद्र में सीएस ओपी मीणा मौजूद रहे.

गौरतलब है कि मुख्य सचिव की पत्नी गीता सिंह देव की ओर से मामले में याचिका लगाई गई थी, जिस पर मंगलवार को राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. सुनवाई करते हुए जस्टिस महेशचन्द्र शर्मा की कोर्ट ने कहा कि इस मामले को मीडिएशन से सुलझाया जाए. अपनी याचिका में आरएएस गीता सिंह देव ने पति ओपी मीणा पर गंभीर आरोप लगाए हुए हैं.

कोर्ट से ये बोली बेटी

मामले को लेकर गीता सिंह की बेटी गीतांजलि सिंह ने अदालत को बताया कि उनके पिता मीडिएशन की कार्रवाई नहीं मानते हैं. इसके बाद अदालत ने मामले को मीडिएशन से सुलझाने के लिए रिटायर्ड जस्टिस सुनील कुमार गर्ग को मीडिएटर बनाया है.

सीबीआई से कराई जाए जांच
गीता सिंह देव का कहना है कि पुलिस इस मामले में उचित कार्रवाई नहीं कर रही. मामले की निष्पक्ष जांच सीबीआई से कराई जानी चाहिए. जब कोर्ट ने राज्य सरकार से केस को सीबीआई को भेजने की बात कही तो राज्य सरकार ने कहा था कि केस को सीबीआई को भेजने की जरूरत नहीं है और राज्य पुलिस ही जांच कर लेगी.बेटी ने लगाए थे यौन शोषण के आरोप
आपको बता दें कि 11 सितंबर 2016 को गीता सिंह देव ने अपनी बेटी की ओर से भेजे गए ई-मेल को सार्वजनिक किया था, जिसमें उनकी बेटी ने मीणा पर यौन शोषण के आरोप लगाए थे. उससे पहले पत्नी के साथ उनका विवाद सामने आ चुका था. वह विवाद 2010 में उस समय सबके सामने आया था जब गीतासिंह देव ने ओपी मीणा के खिलाफ घरेलू हिंसा के मामले में गृहमंत्री को शिकायत की थी.

कौन हैं ओपी मीणा?
ओपी मीणा सवाई माधोपुर जिले के रहने वाले हैं. उनका जन्म 16 जून 1957 को हुआ. वे कोटा, चूरू और बाड़मेर की कलेक्टर रहते हुए जिले की कमान संभाल चुके हैं. इसके अलावा राजस्थान रोडवेज निगम के एमडी, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग में प्रमुख शासन सचिव और वन विभाग में अतिरिक्त मुख्य सचिव पद पर भी तैनात रहे हैं. मौजूदा समय में वे राजस्थान के मुख्य सचिव का पदभार संभाले हुए हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 4, 2017, 5:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर