Home /News /rajasthan /

cyber fraud attempt in name of jaisalmer collector ias tina dabi thug asked amazon gift card from officer on whatsapp cgpg

IAS टीना डाबी के नाम पर ठगी की कोशिश, जालसाज ने अफसर से मांगा गिफ्ट, जानें कैसे खुली पोल

Rajasthan News: जैसलमेर कलेक्टर आईएएस टीना डाबी के नाम पर ठगी की कोशिश की गई है.

Rajasthan News: जैसलमेर कलेक्टर आईएएस टीना डाबी के नाम पर ठगी की कोशिश की गई है.

Rajasthan News: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) के बाद अब जैसलमेर कलेक्टर टीना डाबी (IAS Tina Dabi) के नाम पर ठगी की कोशिश की गई है. बदमाश ने यूआईटी सचिव को अमेजन गिफ्ट कार्ड के लिए WhatsApp पर मेसेज किया था. जब आईएएस को मामले के बारे में जानकारी मिली उन्होंने फौरन एसपी जैसलमेर को सूचना दी. फिलहाल इस मामले में एक आरोपी को डुंगरपुर से डिटेन किया गया है.

अधिक पढ़ें ...

Srikant Vyas 

जैसलमेर. जैसलमेर की कलेक्टर आईएएस टीना डाबी के नाम से WhatsApp पर उनकी फोटो लगाकर लोगों से ठगी करने के प्रयास का मामला सामने आया. अपने नाम से ठगी के प्रयास की जानकारी मिलने के बाद कलेक्टर टीना डाबी ने तुरंत एसपी जैसलमेर को इस मामले की जानकारी दी तथा ठगी करने वाले के नंबर दिए. एसपी जैसलमेर ने इस मामले में साइबर टीम की मदद से नंबर को खंगाला तो उसकी लोकेशन डुंगरपुर जिले में मिली. एसपी जैसलमेर ने डुंगरपुर एसपी को इस मामले की जानकारी दी और उस नंबर को इस्तेमाल करने वाले युवक को पकड़ा. पकड़े गए युवक से पूछताछ की जा रही है.

यूआईटी सचिव सुनीता चौधरी ने बताया कि उनके नंबर पर मैसेज किए गए जिसमें नंबर अलग थे मगर फोटो कलेक्टर टीना डाबी का लगा था. उसने मुझसे अमेजन गिफ्ट कार्ड के बारे में पूछा और बहुत बढ़िया अंग्रेजी में मैसेज आया. मुझे यकीन हो गया कि शायद मैडम को कोई काम होगा, लेकिन मैं अमेजन इस्तेमाल नहीं करती इसलिए बात नहीं बनी. फिर मैंने जब उनको फोन किया तब उन्होंने मना किया. तब जाकर जानकारी में आया कि वो कोई फेक है.

डुंगरपुर एसपी ने किया एक युवक को डिटेन

जिला कलेक्टर टीना डाबी ने बताया कि उनको जब इस फेक आईडी की जानकारी मिली तब उन्होंने एसपी जैसलमेर को इसकी जानकारी दी. एसपी जैसलमेर ने नंबर ट्रेस करके पता किया तब वो डुंगरपुर का मिला. एसपी जैसलमेर ने डुंगरपुर एसपी को इसकी जानकारी उन्होंने बताया कि एक युवक को डिटेन किया है जिससे पूछताछ की जा रही है. कलेक्टर टीना डाबी ने लोगों से अपील करके कहा कि उनके पास उनका एक नंबर ही है जो ऑफिशियल है, इसलिए लोग सावधान रहें.

ये भी पढ़ें:  Rajasthan: तृतीय श्रेणी शिक्षकों को तबादले के लिए करना होगा और इंतजार, जानिए क्या है वजह

मालूम हो कि कुछ दिनों पूर्व साइबर ठगों द्वारा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद, आईपीस एनएम दिनेश के फोटो लगाकर ठगने का प्रयास किया था. जालसाजों के हौसले इतने बुलंद हो गए है कि किसी भी वीआईपी बड़े राजनेता,आईएएस और आईपीएस अधिकारियों के फोटो लगा कर लोगों को मैसेज करते है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.

Tags: IAS Tina Dabi, Jaisalmer news, Rajasthan news

अगली ख़बर