• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Rajasthan के जैसलमेर में मिला Limestone का विशाल भंडार, ऑक्शन की तैयारी

Rajasthan के जैसलमेर में मिला Limestone का विशाल भंडार, ऑक्शन की तैयारी

जैसलमेर में सीमेंट ग्रेड लाइमस्टोन का बड़ा भंडार मिला है.

Jaipur News:  जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इण्डिया (Geological Survey of India) की रिपोर्ट के मुताबिक, जैसलमेर के चार ब्लाॅकों में 315.235 मिलियन टन सीमेंट ग्रेड लाइमस्टोन (cement grade limestone) के भण्डार मिलने की संभावना है. अब इन क्षेत्रों में प्लाॅट विकसित कर नीलामी की कार्रवाई की जाएगी.

  • Share this:

जयपुर. राजस्थान के जैसलमेर जिले में जीएसआई की नई खोज में सीमेंट ग्रेड लाइमस्टोन  (Cement grade lime stone) के विशाल भण्डार मिले हैं. अतिरिक्त मुख्य सचिव माइंस एवं पेट्रोलियम डाॅ. सुबोध अग्रवाल को सचिवालय में जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इण्डिया के अधिकारियों ने जैसलमेर के चार स्थानों में सीमेंट ग्रेड लाइम स्टोन भण्डारों की खोज रिपोर्ट सौंपी. डाॅ. अग्रवाल ने बताया कि जीएसआई की खोज में जैसलमेर के चार ब्लाॅकों में 315.235 मिलियन टन सीमेंट ग्रेड लाइमस्टोन के भण्डार मिलने की संभावना है. उन्होंने बताया कि अब राज्य सरकार द्वारा रिपोर्ट का परीक्षण कर इन क्षेत्रों में प्लाॅट विकसित कर नीलामी की कार्रवाई की जाएगी. मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत का राज्य में खनिज खोज और खनन कार्यों में गति लाने पर जोर है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केन्द्रीय खान मंत्री  प्रहलाद जोशी सेे पिछले दिनों 22 जुलाई को वर्चुअल बैठक के दौरान खनिज खोज कार्य में गति लाने और समय पर रिपोर्ट जारी कराने की जरूरत बताई थी.

डाॅ. अग्रवाल का कहना है कि जीएसआई ने जैसलमेर के 13 वर्ग किलोमीटर से भी अधिक क्षेत्र में लाइम स्टोन के भण्डारों की खोज की है. रिपोर्ट के अनुसार जैसलमेर के लखमानों की ढ़ाणी में 4.60 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में करीब 18.012 मिलियन टन, जैसलमेर के ही कुइंयाला साउथ में 3.20 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में 29.82 मिलियन टन, जैसलमेर की ही मियो की ढ़ाणी ईस्ट ब्लाॅक ए के 2.50 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में 67.033 मिलियन टन और मियों की ढ़ाणी नार्थ में 200.37 मिलियन टन सीमेंट ग्रेड लाइम स्टोन के भण्डार होने की संभावना रिपोर्ट दी है.

ऑक्शन के लिए विकसित होंगे ब्लाॅक 

डाॅ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि जियोलोजिकल सर्वें ऑफ़ इंडिया से प्राप्त रिपोर्ट का अध्ययन कराकर विभाग द्वारा खनन के लिए ऑक्शन के लिए ब्लाॅक विकसित किए जाएंगे.  राज्य में खान एवं भूगर्भ निदेशालय, जियोलाॅजिकल सर्वे ऑफ इण्डिया, एमईसीएल आदि द्वारा खनिज एक्सप्लोरेशन का काम जारी है.

मालूम हो कि इससे पहले राज्य के खान एवं भू-विज्ञान विभाग ने जैसलमेर, नागौर और झुन्झुनू में सीमेंट ग्रेड लाइम स्टोन के 15.30 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में 716 मीलियन टन भण्डार की खोज कर चार ब्लॉक  विकसित किए. लाइम स्टोन के इतने बड़े भण्डार मिलने से प्रदेश में सीमेंट उद्योग में और अधिक निवेश होगा और इससे स्थानीय स्तर पर भी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के नए अवसर विकसित होंगे. प्रदेश में नई सीमेंट इण्डस्ट्री के आने या पहले से काम कर रही सीमेंट कंपनियों द्वारा निवेश बढ़ाकर नए प्लांट लगाकर काम किया जा सकेगा. इसके साथ ही इन क्षेत्रों के समग्र विकास की राह खुलेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज