लाइव टीवी

जैसलमेर: बम मिलने की सूचना से फैली सनसनी, सेना के अधिकारी पहुंचे

Sikandar Sheikh | News18 Rajasthan
Updated: October 22, 2019, 7:52 PM IST
जैसलमेर: बम मिलने की सूचना से फैली सनसनी, सेना के अधिकारी पहुंचे
सेना के अधिकारियों ने बताया कि ये बम नहीं है, बल्कि ये रोशनी करने के लिए इस्तेमाल में आने वाला रॉकेट है. इससे रात को आकाश में फायर करके देखा जाता है.

जैसलमेर (Jaisalmer) जिले में मंगलवार को जिंदा बम (Bomb alive) मिलने की सूचना से सनसनी फैल गई. लेकिन बाद में जांच में वह रात को रोशनी करने वाला रॉकेट (Rocket) निकला. सेना के अधिकारियों (Army officers) ने मौके पर पहुंचकर उसे अपने कब्जे में ले लिया है.

  • Share this:
जैसलमेर. राजस्थान के जैसलमेर जिले में मंगलवार को जिंदा बम (Bomb alive) मिलने की सूचना से सनसनी फैल गई. सूचना पर सेना के अधिकारियों (Army officers) ने मौके पर पहुंचकर उसे अपने कब्जे में ले लिया है. लेकिन जांच में बम रात को रोशनी करने वाला रॉकेट (Rocket) निकला. उसके बाद क्षेत्र के लोगों ने राहत की सांस ली. इस दौरान पुलिस (Police) ने ऐहतियात के तौर यातायात को डाईवर्ट (Divert traffic) करके रखा.

बमनुमा चीज देखकर लोगों के होश उड़ गए
रॉकेट मिलने की यह घटना जैसलमेर के रामदेवरा पुलिस थाना क्षेत्र के लोहारकी इलाके में दोपहर में हुई. वहां सड़क के पास बमनुमा चीज देखकर लोगों के होश उड़ गए. लोगों ने तत्काल इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी. सूचना पर रामदेवरा पुलिस ने मौके पर जाकर देखा तो बात सही निकली. इस पर पुलिस ने सेना के अधिकारियों को सूचित किया और ऐहतियात के तौर पर यातायात को डाइवर्ट कर दिया.

रोशनी करने के लिए इस्तेमाल में आने वाला रॉकेट था

बाद में सेना के अधिकारी मौके पर पहुंचे और उसकी जांच पड़ताल की. सेना के अधिकारियों ने बताया कि ये बम नहीं है, बल्कि ये रोशनी करने के लिए इस्तेमाल में आने वाला रॉकेट है. इससे रात को आकाश में फायर करके देखा जाता है. हाल ही में फायरिंग रेंज में चल रहे युद्धाभ्यास के दौरान ये मिस फायर की वजह से बाहर आ गिरा होगा. सेना के अधिकारियों ने उसे अपने कब्जे ले लिया और अपने साथ ले गए. तब जाकर लोगों ने राहत की सांस ली.

कई बार हो चुका है ऐसा
उल्लेखनीय है कि जैसलमेर जिले में सेना की चांधन फील्ड फायरिंग रेंज हैं. यहां अक्सर सेना अभ्यास करती रहती है या फिर कोई न कोई सैन्य गतिविधियां होती रहती हैं. ऐसे में कई बार ये चीजें मिस फायर आदि के कारण बाहरी इलाके में आ गिरती हैं.
Loading...

स्थानीय निकाय चुनाव: हाईब्रिड फॉर्मूले का विवाद पहुंचा सोनिया गांधी के पास

कांग्रेस: चुनाव मॉनिटरिंग सेल ने पकड़ी राजस्थान के नेताओं की कारस्तानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जैसलमेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 7:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...