अरब के दमाम में फंसा जैसलमेर का युवक, पीएम मोदी से लगाई मदद की गुहार

अबर से एक भारतीय युवक ने पीएम मोदी से मदद की गुहार लगाई है. वहां उसे ना तो खाना मिल रहा है और ना ही सैलरी. जिसकी वजह से अब वो वतन लौटना चाहता है.

Sikandar Sheikh | News18 Rajasthan
Updated: July 25, 2019, 12:54 PM IST
Sikandar Sheikh | News18 Rajasthan
Updated: July 25, 2019, 12:54 PM IST
रोजीरोटी की तलाश में विदेश पहुंचने के बाद मुसीबतें झेलने वाले दर्जनों मामले अब तक सामने आ चुके हैं. इनमें से अधिकांश मामले अरब देश के सामने आए हैं. ऐसा ही एक मामला सोशल मीडिया पर फिर वायरल हो रहा है. जिसमें युवक अपना दर्द सोशल मीडिया के जरिये बयान करता नजर आ रहा है. वायरल विडियो में युवक अपनी सैलरी नहीं मिलने और खाने तक को तरसने की बात कर रहा है. पीड़ित युवक अरब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गलहोल, अर्जुन मेघवाल के साथ उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट से मदद की गुहार लगा रहा है. इसके साथ ही वो वहां से बाहर निकालने की अपील भी कर रहा है.

अरब से एक युवक ने पीएम मोदी से लगाई मदद की गुहार

जानकारी के मुताबिक पीड़ित युवक जैसलमेर जिले के रामपुरा का रहने वाला बताया जा रहा है. युवक तीर्थराम जनवरी महीने में रोजगार के लिए अरब गया था. जहां उसे अरब के दमाम में मुबारक सूबेली सेठ के यहां ऊंट चराने का काम मिला था. पहले तीन माह तक युवक हो समय पर सैलरी मिली, मगर बीते चार माह से ना तो उसे तनख्वा दी जा रही है और ना ही समय पर खाना दिया जा रहा है. अब वो परेशान युवक भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राजस्थान के सीएम समेत कई बड़े नेताओं से अपील कर रहा है कि अब यहां सहा नहीं जा रहा है, किसी तरह उसे भारत वापस मंगवा लें.

अरब में फंसा जैसलमेर का युवक-Jaisalmer's young man trapped in Arab
अबर से एक भारतीय युवक ने पीएम मोदी से मदद की गुहार लगाई है. वहां उसे ना तो खाना मिल रहा है और ना ही सैलरी. जिसकी वजह से अब वो वतन लौटना चाहता है.


ये भी पढ़ें- हिंदू धर्म से प्रभावित होकर भारतीय बने सेथ डे हिंग्गीकरन

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान से आए टिड्डी दल ने फिर से किया जैसलमेर में कब्जा
First published: July 25, 2019, 12:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...