लाइव टीवी

बाड़मेर की नीतू चोपड़ा बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने स्कूटी पर कन्याकुमारी निकली

Sikandar Sheikh | News18 Rajasthan
Updated: November 29, 2019, 5:22 PM IST
बाड़मेर की नीतू चोपड़ा बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने स्कूटी पर कन्याकुमारी निकली
बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए नीतू चोपड़ा ने कन्याकुमारी तक का सफर बनाने का निर्णय लिया है.

'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ और आत्मनिर्भर बनाओ' का नारा लेकर बाड़मेर (Badmer) की युवती नीतू चोपड़ा ने पूरे देश में भ्रमण का इरादा बनाया है. इसी इरादे के साथ वह उदयपुर (Udaipur) से स्कूटी पर निकल पड़ी है और वह कन्याकुमारी (Kanyakumari) तक का सफर करेगी.

  • Share this:
जैसलमेर. 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ और आत्मनिर्भर बनाओ' का नारा लेकर बाड़मेर (Badmer) की एक युवती ने पूरे देश में भ्रमण का इरादा बनाया है. इसी इरादे के साथ वह उदयपुर (Udaipur) से स्कूटी पर निकल पड़ी है और वह कन्याकुमारी तक का सफर करेगी. बेहतरीन जज़्बे के साथ जैसलमेर आई नीतू चोपड़ा (Neetu Chopra) का जैसलमेर वासियों ने स्वागत किया और प्रशंसा पत्र देकर हौसलाअफजाई भी की है. बाड़मेर के बालोतरा की रहने वाली नीतू चोपड़ा ने स्कूटी पर देशभर की यात्रा करने का फैसला लिया है. इस यात्रा की शुरुआत उन्होंने उदयपुर से की है.

नीतू का किया गया सम्मान

गौरतलब है कि अपने सफर के दौरान नीतू जैसलमेर पहुंची और उन्होने भारत पाक बॉर्डर तक स्कूटी पर जाकर ये साबित कर दिया है​ कि इंसान जो भी ठान ले वह हौसलों से कर ही लेता है. तनोट और लोंगेवला के कठिन सफर को स्कूटी पर आसान कर जैसलमेर आने पर जिला प्रमुख अंजना मेघवाल व एनजीओ एक्शन ऐड की सरिता मौर्या ने उनका स्वागत किया तथा जिला प्रमुख अंजना ने उनको प्रशंसा पत्र देकर उनकी हौसलाअफजाई भी की.

बेटी को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्कूटी से यात्रा कर रही नीतू

जिला प्रमुख अंजना मेघवाल ने बताया कि आज हर कोई बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की मुहिम चला रहा है, मगर बेटी को आत्मनिर्भर बनाने का नारा देकर उन्हें मोटिवेट करना का जज़्बा लेकर एक लड़की पूरे देश में स्कूटी पर सफर कर रही है. यह सुनकर मुझे बहुत गर्व महसूस हुआ है और मैं इनके सफर की सफलता की इनको बधाई देती हूं.



जैसलमेर में नीतू चोपड़ा ने लड़कियों को किया मोटिवेट
Loading...

जैसलमेर में नीतू चोपड़ा ने राजकीय कन्या महाविद्यालय में लड़कियों को मोटिवेट भी किया. नीतू चोपड़ा ने कहा कि महिलाओं का आशय है कि मन में हिम्मत लाने वाली, जो दूसरों को प्रेरित करती है और दूसरों की मदद भी करती है. उन्होंने जीवन में सफल होने के लिए आत्मविश्वास और हर परिस्थिति के अनुरूप ढलने और चुनौतियों का सामना करने की बात कही.

'जोधपुर से बालोतरा तक का रास्ता काफी कठिन'

एक निजी संस्था द्वारा संचालित 'लड़कियों घर से बाहर निकलो' अभियान के तहत बालोतरा निवासी नीतू चोपड़ा ने उदयपुर से जैसलमेर तक स्कूटी द्वारा राइड की है. बेटियों को लेकर देशभर की यात्रा पर निकली नीतू ने स्कूटी को अपने सफर का आधार बनाया है. नीतू ने बताया कि उदयपुर से जोधपुर तक की यात्रा ठीक थी, लेकिन जोधपुर से बालोतरा तक का रास्ता काफी कठिन था.

यह भी पढ़ें: BJP के कार्यकर्ता भी यही बोलते थे कि अशोक गहलोत सीएम हो- मुख्यमंत्री

जोधपुर को जल्द मिल सकती है IPL मैच की सौगात, RCA अध्यक्ष ने किया दौरा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जैसलमेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 5:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...