Home /News /rajasthan /

राजस्थान में 1 और संदिग्ध पाकिस्तानी जासूस आया गिरफ्त में, इंश्योरेंस एजेंट बनकर कर रहा था काम

राजस्थान में 1 और संदिग्ध पाकिस्तानी जासूस आया गिरफ्त में, इंश्योरेंस एजेंट बनकर कर रहा था काम

जैसलमेर जिले से पकड़े गये पाक जासूस नवाब खान, फतन खान और पप्पू देवासी.

जैसलमेर जिले से पकड़े गये पाक जासूस नवाब खान, फतन खान और पप्पू देवासी.

Pakistani spy caught in Jaisalmer: परमाणु नगरी पोकरण इलाके से सुरक्षा एजेंसियों ने एक और संदिग्ध पाकिस्तानी जासूस को पकड़ा है. इससे पहले दो अन्य जासूसों को पकड़ा गया था. पहले पकड़े गये जासूस से हुई पूछताछ में इनके नाम सामने आये हैं. पकड़ा गया तीसरा जासूस फलसूंड इलाके में इंश्याेरेंस और पासपार्ट बनाने का काम करता है.

अधिक पढ़ें ...

    सांवलदान रतनू.

    जैसलमेर. राजस्थान में भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा (India-Pakistan International Border) पर स्थित जैसलमेर जिले (Jaisalmer) से एक और संदिग्ध पाक जासूस (Spy) को पकड़ा गया है. पोकरण के चांधन इलाके से हाल ही में पकड़े गए पाकिस्तानी जासूस नवाब खान की निशानदेही पर इस तीसरे संदिग्ध जासूस पप्पू देवासी को पकड़ा गया है. यह इंश्योरेंस एजेंट हैं और पासपोर्ट बनवाने का काम भी करता है. उससे पूछताछ में और भी खुलासे होने की संभावना जताई जा रही है.

    महानिदेशक पुलिस (इंटेलीजेंस) उमेश मिश्रा ने बताया कि नवाब खान (34) पुत्र दिले खान लंबे समय से पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लोकल एजेंट के तौर पर काम कर रहा था. वह साल 2015 में वो पाकिस्तान यात्रा पर गया था. पाकिस्तान में आईएसआई के संपर्क में आने और उनके लिए जासूसी करने के लिए तैयार होने पर उसे 15 दिन की ट्रेनिंग देकर 10 हजार रुपये दिए गए.

    नवाब खान दो-तीन बार फिर गया था पाकिस्तान
    नवाब खान ने पाकिस्तान से ट्रेनिंग लेकर भारत लौटने के बाद जासूसी का काम शुरू कर दिया. नवाब सेना के मूवमेंट आदि से जुड़ी सूचना सोशल मीडिया के माध्यम से पाकिस्तान भेज रहा था. इसके बाद भी वह दो-तीन बार और पाकिस्तान जाकर आया था. नवाब की चांधन कस्बे के हाई वे पर मोबाइल और सिमकार्ड तथा फोटो स्टेट की दुकान है. इस दुकान की आड़ में वह फील्ड फायरिंग रेंज के मूवमेंट की जानकरी लेकर पाकिस्तान में बैठे अपने हैंडलर को भेजता था.

    पाकिस्तानी जासूसी नेटवर्क का बड़ा खुलासा, जैसलमेर में 1 और जासूस पकड़ा, टायर की दुकान चला रहा था

    फोटो कॉपी अपने पास ही रख लेता था
    वो अपनी दुकान पर आने वाले ग्राहकों के डोक्यूमेंट कि फोटो कॉपी अपने पास ही रख लेता था. उससे मोबाइल सिम इश्यु करके मोबाइल नंबर के ओटीपी अपने हैंडलर को भेजता था. पाक हैंडलर इन भारतीय नंबरों का उपयोग सोशल मीडिया अकाउंट संचालन कर सैन्य कर्मियों एवं नागरिकों को जासूसी में फंसाने के लिये उपयोग में लेते हैं.

    पाक हैंडलर हवाला नेटवर्क के माध्यम से पैसे देता था
    नवाब खान को जासूसी के बदले पाक हैंडलर हवाला नेटवर्क के माध्यम से पैसे देता था. उमेश मिश्रा ने बताया कि इस दौरान वो इंटेलीजेंस के राडार पर आ गया. इस पर उसकी निगरानी शुरू की गई. जासूसी की पुष्टि होने के बाद इससे पूछताछ की गई. उसके मोबाइल में मिले सामरिक महत्व के अहम दस्तावेजों के बाद नवाब को शासकीय गुप्त बात अधिनियम (ओफिसियल सीक्रेट एक्ट) के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया गया है.

    दोनों सहयोगी फलसूंड इलाके से पकड़े गये हैं
    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सुरक्षा एजेंसियों की पूछताछ में नवाब ने 2 लोगों के नाम बताए हैं. इनमें फलसूंड इलाके से शुक्रवार रात टायर ट्यूब की दुकान चलाने वाले फतन खान को पूछताछ के लिए सुरक्षा एजेंसियों ने डिटेन किया था. रविवार को फलसूंड इलाके से दूसरे संदिग्ध एजेंट पप्पू देवासी को भी सुरक्षा एजेंसियों द्वारा डिटेन करने किया है.

    फतन खान और पप्पू देवासी नवाब खान के संपर्क में थे
    बताया जा रहा है कि फतन खान और पप्पू देवासी नवाब खान के संपर्क में थे. फिलहाल दोनों को सुरक्षा एजेंसियों द्वारा डिटेन कर जयपुर ले जाने कि सूचना है. दोनों से पाकिस्तान से जासूसी के मामले में पूछताछ हो रही है. पूछताछ में और भी खुलासे होने की संभावना जताई जा रही है.

    Tags: India pak border, Indian army, Rajasthan latest news, Rajasthan News Update

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर