लाइव टीवी

सोशल मीडिया पर शहीद के परिवार की मदद का आव्हान, देखते ही देखते ही 40 लाख हुए जमा

Sikandar Sheikh | News18 Rajasthan
Updated: October 9, 2019, 1:33 PM IST
सोशल मीडिया पर शहीद के परिवार की मदद का आव्हान, देखते ही देखते ही 40 लाख हुए जमा
बालोतरा के निवासी भामाशाह मोहनसिंह ने शहीद परिवार को 5 लाख रुपए की आर्थिक मदद दी

जैसलमेर के जानरा गांव के सुजान सिंह ने शहीद के परिवार की मदद व उनके घर की छत के लिए आमजन से सोशल मीडिया पर एक अपील की थी, जिसके चलते लोगों ने अब तक 40 लाख रुपए से भी ज्यादा रकम शहीद की वीरांगना के अकाउंट में जमा हुई.

  • Share this:
जैसलमेर. राजस्थान के मोहनगढ़ (Mohangarh) के शहीद राजेन्द्र सिंह (Martyr Rajendra Singh) के परिवार की आर्थिक मदद (financial help) के लिए सोशल मीडिया (Social media)  एक बहुत बड़ी ताकत बनकर उभरा है. जैसलमेर के जानरा गांव के सुजान सिंह ने शहीद के परिवार की मदद (Help of martyr's family) व उनके घर की छत के लिए आमजन से सोशल मीडिया पर एक अपील की थी. जिसका पूरे प्रदेश में व्यापक असर हुआ. पूरे प्रदेश से लोगों ने शहीद राजेन्द्र सिंह की वीरांगना के एकाउंट में जी खोलकर पैसे डाले ताकि उनको किसी का मोहताज ना होना पड़े.

सोशल मीडिया पर परिवार की आर्थिक मदद के लिए की थी अपील

सुजान सिंह ने बताया की वो सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव रहते है. जब उन्होंने राजेन्द्र सिंह के शहीद होने की खबर सुनी और फिर उनके परिवार के हालत के बारे में जाना. तब उन्होंने सोचा कि क्यों ना सोशल मीडिया को ही हथियार बनाकर शहीद के परिवार की आर्थिक मदद के लोगों से अपील की जाए. सुजान सिंह की ये मुहिम काम कर गई और लोगों ने अब तक 40 लाख रुपए से भी ज्यादा रकम शहीद की वीरांगना के अकाउंट में सीधे जमा करवाई है. शहीद के परिवार की मदद कर सुजान सिंह ने कहा इससे ज्यादा मेरे लिए खुशी की बात और कुछ हो ही नहीं हो सकती.

शहीद के घर पहुंचकर परिजनों से बातचीत करते स्थानीय लोग
शहीद के घर पहुंचकर परिजनों से बातचीत करते स्थानीय लोग


जिला कलेक्टर ने भी शहीद के परिवार की मदद

सुजान सिंह की मुहिम का असर आज भी देखने को मिला, जब बाड़मेर जिले के बालोतरा के निवासी भामाशाह मोहन सिंह ने शहीद परिवार को 5 लाख रुपए की आर्थिक मदद दी. जैसलमेर जिला कलेक्टर के साथ पहुंचे मोहनसिंह के रिश्तेदारों ने 5 लाख का चेक शहीद के परिजनों को सौंपा. वहीं जैसलमेर(Jaisalmer)जिला कलेक्टर नमित मेहता ने भी इस मुहिम को समर्थन देते हुए 31 हज़ार का चेक शहीद के परिवार वालों को सौंपा.

यह भी पढ़ें- मां दुर्गा की आरती करने पहुंचे दरगाह के गद्दीनशी, नुसरत जहां के विरोधियों को दिया जवाब
Loading...

यह भी पढ़ें- झुंझुनूं में मां दुर्गा की शोभायात्रा के दौरान मधुमक्खियों ने किया हमला, 50 से अधिक श्रद्धालु पहुंचे अस्पताल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जैसलमेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 1:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...