राजस्‍थान: 10 दिनों के अंदर तीसरे पुलिसकर्मी ने किया सुसाइड, बीकानेर में SHO की हार्ट अटैक से मौत
Jaisalmer News in Hindi

राजस्‍थान: 10 दिनों के अंदर तीसरे पुलिसकर्मी ने किया सुसाइड, बीकानेर में SHO की हार्ट अटैक से मौत
कांस्टेबल मायाराम मीणा और सेरुणा थानाप्रभारी गुलाम नबी.

राजस्थान में महज 10 दिन के भीतर तीसरे पुलिसकर्मी ने आत्महत्या (Suicide) कर ली. ताजा मामला जैसलमेर (Jaisalmer) के पोकरण का है. वहीं, बीकानेर के सेरुणा थानाप्रभारी की सोमवार को हार्ट अटैक से मौत हो गई.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
जैसलमेर/बीकानेर. ऐसा लगता है कि राजस्थान पुलिस (Rajasthan Police) में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. प्रदेश में महज 10 दिन के भीतर तीसरे पुलिसकर्मी ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली. ताजा मामला जैसलमेर (Jaisalmer) के पोकरण से जुड़ा हुआ है. यहां एक कांस्टेबल ने रविवार को होटल के कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इससे पहले चूरू के राजगढ़ थानाप्रभारी और दौसा के सैंथल थाने में कार्यरत हेड कांस्टेबल ने फांसी लगाकर आत्महत्या की थी. दूसरी तरफ, बीकानेर (Bikaner) के सेरुणा थानाप्रभारी की सोमवार को हार्ट अटैक से मौत हो गई.

होटल के कमरे में लगाई फांसी
पुलिस के अनुसार, जैसलमेर के पोकरण में कांस्टेबल मायाराम मीणा ने रविवार रात को करीब 9.30 बजे एक होटल में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. आत्महत्या के कारणों का अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है. मायाराम पावर ग्रिड में ड्यूटी पर कार्यरत था. पावर ग्रिड कंपनी वालों ने उसके आत्महत्या की सूचना पुलिस को दी. इस पर पोकरण पुलिस मौके पर पहुंची. सूचना पर पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग भी पोकरण पहुंची और घटनास्थल का जायजा लेकर पूरे मामले की जानकारी ली. आत्महत्या के कारणों का अभी तक खुलासा नहीं हुआ है.

10 दिन में तीसरे पुलिसकर्मी ने की आत्महत्या, तीनों ने लगाई फांसी



उल्लेखनीय है कि इससे पहले गत 23 मई को चूरू के राजगढ़ थानाप्रभारी विष्णुदत्त विश्नोई ने अपने सरकारी क्वार्टर में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी. विश्नोई ने आत्महत्या से पहले लिखे दो सुसाइड नोट में दवाब का जिक्र किया था. वहीं उसके बाद हाल ही में 29 मई को दौसा के सैंथल पुलिस थाने में कार्यरत हेड कांस्टेबल गिरिराज प्रसाद ने थाने में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. लगातार हो रही इन घटनाओं से पुलिस महकमा सदमे में है.



सेरुणा थानाधिकारी वॉक पर निकले और चक्कर खाकर गिर पड़े
दूसरी तरफ, बीकानेर के सेरुणा थानाधिकारी सीआई गुलाम नबी (36) का सोमवार को सुबह हार्ट अटैक से निधन हो गया. थानाधिकारी नबी सुबह वॉक करने के लिए घर से निकले थे. इस दौरान वे रास्ते में अचेत होकर गिर पड़े. लोगों ने उनको अचेत अवस्था में बीकानेर पीबीएम अस्पताल पहुंचाया. वहां चिकित्सकों ने उनको मृत घोषित कर दिया. नबी की मौत का कारण हार्ट अटैक बताया जा रहा है. सूचना पर एडिश्नल एसपी पवन मीणा और सीओ पवन भदौरिया अस्पताल भी पहुंचे और मामले की जानकारी ली. नबी करीब 6 माह से सेरुणा थाने में पदस्थापित थे. इससे पहले वे बीकानेर जिले में कई थानों में थानाप्रभारी रह चुके थे.

Churu: फंदे से झूलता मिला राजगढ़ थाना अधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई का शव 

राजस्‍थान: हेड कांस्‍टेबल ने थाने में किया सुसाइड, पुलिस महकमे में हड़कंप

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading