Rajasthan: गहलोत सरकार के मंत्री शांति धारीवाल बोले, वसुंधरा राजे हैं दमदार नेता
Jaisalmer News in Hindi

Rajasthan: गहलोत सरकार के मंत्री शांति धारीवाल बोले, वसुंधरा राजे हैं दमदार नेता
धारीवाल ने कहा कि जिसके पास बहुमत होता है वही तो सदन बुलाता है. हम तो चलाकर सदन बुला रहे हैं. सरकार को कोई खतरा नहीं है.

धारीवाल ने कहा है कि अंतर्कलह तो बीजेपी में है हमारे यहां नहीं. बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया और उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ का जनाधार नहीं है. जनाधर तो वसुंधरा राजे का है, जिन्हें इन दिनों साइडलाइन कर रखा है. वसुंधरा राजे वो नेता हैं जिनमें दम है.

  • Share this:
जैसलमेर. प्रदेश में चल रहे सियासी संकट (Political crisis) के बीच बाड़ाबंदी के नाम पर जैसलमेर में राजनीतिक ट्यूरिज्म का आनंद ले रही अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Government) के संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल ने न केवल बहुमत का दावा किया है, लेकिन बीजेपी पर भी कड़े वार किये हैं. धारीवाल ने कहा है कि अंतर्कलह तो बीजेपी में है हमारे यहां नहीं. बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया और उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ का जनाधार नहीं है. जनाधर तो वसुंधरा राजे का है, जिन्हें इन दिनों साइडलाइन कर रखा है. वसुंधरा राजे वो नेता हैं, जिनमें दम है.

14 अगस्त को गहलोत की जादूगरी देखने को मिलेगी
सियासी संकट पर शांति धारीवाल ने कहा कि 14 अगस्त को सदन में देखिए क्या होता है. विश्वास मत आता है या नहीं. यह कार्य सलाहकार समिति की बैठक में तय होगा. 14 अगस्त को गहलोत की जादूगरी देखने को मिलेगी. हमारे पास पर्याप्त बहुमत है. धारीवाल ने कहा कि जिसके पास बहुमत होता है वही तो सदन बुलाता है. हम तो चलाकर सदन बुला रहे हैं. सरकार को कोई खतरा नहीं है.

Rajasthan: बाड़मेर जिले के 50 मुस्लिम परिवार के 250 लोगों ने अपनाया हिन्‍दू धर्म
सालेह मोहम्मद बोले बीजेपी के लोग भ्रम फैला रहे हैं


वहीं मंत्री सालेह मोहम्मद ने भी कहा कि सरकार के पास पर्याप्त बहुमत है. बीजेपी के लोग भ्रम फैला रहे हैं. सरकार को कोई खतरा नहीं है. जरूरत पड़ने पर सदन में दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. सरकार लगातार काम कर रही है. हमारे 19 बागी साथियों को वापस लौटना चाहिए. बागी अगर विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं होंगे तो कार्रवाई होगी.

बैरवा ने कहा पायलट गलत रायचंदों के शिकार हो गये
कांग्रेस विधायक प्रशान्त बैरवा ने पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट को घेरते हुए कहा कि कई रायचंदों ने उनको गलत राय दी. अगर उन्हें सही राय दी होती तो वे बगावत नहीं करते. बैरवा ने कहा कि अब भी वक्त है. 19 बागियों को लौटकर वापस आना चाहिए. उन्होंने कहा कि सचिन पायलट अशोक गहलोत से आगे निकलने की क्षमता रखने वाले नेता थे. लेकिन वे कुछ रायचंदों की गलत राय का शिकार हो गए. अब भी कुछ नहीं बिगड़ा है, परिवार में लौट आना चाहिए.

Rajasthan: जैसलमेर में उठे रेत के बंवडर ने अपनी आगोश में लिया अशोक गहलोत खेमे को

जैसलमेर में बाड़ाबंदी में बंद हैं मंत्री और विधायक
उल्लेखनीय है कि सियासी संकट के इस दौर में सीएम अशोक गहलोत खेमे के मंत्री और विधायक जैसलमेर में होटल सूर्यगढ़ में बाड़ाबंदी में बंद हैं. ये मंत्री और विधायक आज कड़ी सुरक्षा में जैसलमेर घूमने के लिए निकले हैं. इन्होंने आज पटवों की हवेली समेत जैसलमेर के प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों पर भ्रमण किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading