राजस्थान सियासी संग्राम: BJP से 'दोस्ती' तोड़ने के बाद ही बागी विधायकों से बात करेगी कांग्रेस
Jaisalmer News in Hindi

राजस्थान सियासी संग्राम: BJP से 'दोस्ती' तोड़ने के बाद ही बागी विधायकों से बात करेगी कांग्रेस
अशोक गहलोत के नेतृत्व से नाराज होकर सचिन पायलट सहित 19 कांग्रेस विधायकों ने बागी तेवर अपना लिया है.

राजस्थान (Rajasthan) में सियासी संग्राम के बीच बागी विधायकों (MLA) से बातचीत को लेकर कांग्रेस (Congress) की ओर से बड़ा बयान आया है.

  • Share this:
जैसलमेर. राजस्थान (Rajasthan) में सियासी संग्राम के बीच बागी विधायकों (MLA) से बातचीत को लेकर कांग्रेस (Congress) की ओर से बड़ा बयान आया है. कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा है कि राजस्थान के बागी कांग्रेस विधायकों को वापसी के लिए बातचीत से पहले बीजेपी से दोस्ती तोड़नी होगी और उसकी मेजबानी छोड़कर घर लौटना होगा. राजस्थान में अशोक गहलोत के नेतृत्व से नाराज होकर बागी हुए सचिन पायलट सहित 19 कांग्रेस विधायकों की वापसी की संभावना के सवाल पर सुरजेवाला ने कहा,'सबसे पहले बागी विधायक वार्तालाप करें और उसको करने के लिए पहली शर्त है कि भाजपा की मेजबानी छोड़ें. मनोहर लाल खट्टर की अगुवाई वाली हरियाणा की भाजपा सरकार का सुरक्षा चक्र छोड़ें.'

सुरजेवाला ने कहा,'हरियाणा में आए दिन बच्चों की हत्याएं हो रही हैं, सामूहिक दुष्कर्म हो रहे हैं, गुड़गांव में लोगों को सरे राह पीटा जा रहा है और इसके लिए पुलिस उपलब्ध नहीं, लेकिन इन 19 विधायकों की सुरक्षा के लिए एक हजार के करीब पुलिसकर्मी लगाए गए हैं. कांग्रेस के नाराज विधायकों को भाजपा जो सुरक्षा दे रही है, उसके क्या मायने हैं.'

बीजेपी की आवभगत छोड़ें
सुरजेवाला बीजेपी पर हमलावर रहे. उन्‍होंने कहा, 'बागी विधायक पहले भाजपा की आवभगत छोड़ें. पहले बीजेपी से मित्रता तोड़ें, पहले भाजपा का साथ छोड़ें, उसकी मेहमाननवाजी छोड़ें. पहले भाजपा का सुरक्षा चक्र तोड़े अपने घर वापसी करें तब वार्तालाप होगा.' गौरतलब है कि कांग्रेस व उसके समर्थक विधायक यहां जैसलमेर के एक निजी होटल में रुके हुए हैं. जबकि सचिन पायलट की अगुवाई में 19 बागी विधायकों के हरियाणा के होटल में रुके होने के समाचार हैं. राज्य विधानसभा का सत्र 14 अगस्त से शुरू होगा. सुरजेवाला ने राम मंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम के बारे में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का बयान भी जारी किया. इसमें प्रियंका ने कहा है कि रामलला के मंदिर के भूमिपूजन का कायर्क्रम बुधवार को है।.भगवान राम की कृपा से यह कायर्क्रम उनके संदेश को प्रसारित करने वाला राष्ट्रीय एकता, बंधुत्व और सांस्कृतिक समागम का कायर्क्रम बने.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading