वॉर गेम एक्सरसाइज: थार के रेगिस्तान में 8 देशों की सेनाएं दिखाएंगी युद्ध कौशल का जलवा

भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर स्थित जैसलमेर जिले में सोमवार से वॉर गेम एक्सरसाइज की शुरुआत होगी. जैसलमेर के मरूस्थल में होने वाली इस वॉर गेम एक्सरसाइज में भारत सहित 8 देशों की सेनाएं हिस्सा ले रही हैं.

Sikandar Sheikh | News18 Rajasthan
Updated: August 5, 2019, 11:30 AM IST
वॉर गेम एक्सरसाइज: थार के रेगिस्तान में 8 देशों की सेनाएं दिखाएंगी युद्ध कौशल का जलवा
6 ये 14 अगस्त के बीच होगा मुख्य आयोजन। फाइल फोटो।
Sikandar Sheikh | News18 Rajasthan
Updated: August 5, 2019, 11:30 AM IST
भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर स्थित जैसलमेर जिले में सोमवार से वॉर गेम एक्सरसाइज की शुरुआत होगी. जैसलमेर के मरूस्थल में होने वाली इस वॉर गेम एक्सरसाइज में भारत सहित 8 देशों की सेनाएं हिस्सा ले रही हैं. रूस और चीन जैसी बड़ी सैन्य शक्तियों सहित 8 देशों की सेनाएं पश्चिमी राजस्थान के रेतेली धोरों में भारतीय सेना से लड़ाई का पराक्रम सीखेंगी. विश्व की श्रेष्ठ सेनाओं में शामिल भारतीय थल सेना से जमीन से लड़ाई और छोटे युद्ध में दक्षता हासिल करने के लिए ये सेनाएं जैसलमेर के मिलिट्री स्टेशन में जुटी हैं.

भारत में पहली बार हो रही है
5वीं इंटरनेशनल आर्मी स्काउट मास्टर्स कॉम्पिटिशन का सोमवार को औपचारिक तौर पर आगाज होगा. भारत में पहली बार हो रही इस अन्तराष्ट्रीय स्काउट मास्टर प्रतियोगिता के आयोजन के पांचवें सीजन का साक्षी होने का गौरव जैसलमेर को प्राप्त हो रहा है. इससे पहले इस प्रतियोगिता के 4 सीजन का आयोजन रूस में किया गया था. जैसलमेर के मरूस्थल में होने वाली इस वॉर गेम एक्सरसाईज में भारत सहित 8 देशों की सेनाएं हिस्सा ले रही हैं.

मुख्य आयोजन आगामी 6 से 14 अगस्त के बीच होगा

इसमें भारत के अलावा रूस, कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान, जिम्बाबे, आर्मेनिया, बेलारूस, सूडान और चीन की टीमें शामिल होने के लिए जैसलमेर पहले पहुंच चुकी हैं. यहां पर वे अपने अपने युद्ध कौशल का प्रदर्शन करेंगी और अपनी युद्ध तकनीकों को एकदूसरे के साथ साझा करेंगी. प्रतियोगिता का मुख्य आयोजन आगामी 6 से 14 अगस्त के बीच किया जाएगा. इसमें 8 देशों की सैन्य टीमों के बीच प्रतियोगिताएं होगी. प्रतियोगिता के दौरान पांच राउंड होंगे.

सैन्य कौशल, नेविगेशन, टीम वर्क और मैप रीडिंग समेत कई गतिविधियां होंगी
मुख्य प्रतियोगिता में सैनिकों के सैन्य कौशल, नेविगेशन, टीम वर्क, मैप रीडिंग और सामरिक योजना सहित कई गतिविधियां शामिल होंगी. सभी टीमें पिछले कई दिनों से जैसलमेर में हैं और मुख्य प्रतियोगिता से पहले खुद को रेगिस्तान की परिस्थतियों में ढालने का प्रयास कर रही हैं ताकि वे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकें. सैन्य टीमें लाठी क्षेत्र में प्रतियोगिता के महत्वपूर्ण अंतिम दो चरणों का रिहर्सल भी कर चुकी हैं. अभ्यास के दौरान प्रतियोगिता के निर्णायक ब्रिगेडियर प्रेमराज ने सभी टीमों के प्रदर्शन को नजदीक से परखा.
Loading...

चूरू में 15 घंटे से फंदे पर झूल रहा है किसान के बेटे का शव 

गुजरात में बारिश का असर: आधा दर्जन ट्रेनें नहीं आएंगी कोटा
First published: August 5, 2019, 11:26 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...