Jaisalmer: थार के रेगिस्तान में 40 डिग्री के पार पहुंच रहा पारा, चिलचिलाती धूप में सीमा पर डटे हैं BSF के जवान

BSF ने पठानकोट में 3 पाकिस्तानी घुसपैठियों को गोली चलाकर वापस भेजा

BSF ने पठानकोट में 3 पाकिस्तानी घुसपैठियों को गोली चलाकर वापस भेजा

Rajasthan weather updates: सीमा पर बसे जैसलमेर जिले में गर्मी अभी से सितम ढाहने लग गई है. यहां रेतीले धोरों में तापमापी (Temperature) पारा 40 के पार पहुंचने लग गया है. भयंकर लू और गर्मी के इस मौसम में भी सीमा पर बीएसएफ (BSF) के जवान मुस्तैदी से सुरक्षा में जुटे हैं.

  • Share this:
जैसलमेर. भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर (India-Pakistan International Border) पर थार के रेगिस्तान में बसे सरहदी जैसलमेर जिले में शहर से लेकर गांवों तक में गर्मी (Heat) की तपिश बढ़ गई है. यहां मार्च के अंतिम सप्ताह से ही मई जैसी गर्मी पड़नी शुरू हो गई थी. शहर में तापमान (Temperature) 38 से 40 डिग्री केआसपास पहुंच गया है. वहीं सरहद पर रेतीले धोरों में यह 44 डिग्री तक पहुंचने लग गया है.

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार आगामी दिनों में हीट वेव चलने से तापमापी पारा छलांग लगा सकता है. इससे जनजीवन प्रभावित हो सकता है. लेकिन इस चिलचिलाती धूप के बावजूद सरहद पर सीमा सुरक्षा बल पूरी तरह से मुस्तैद है और गर्मी की चुनौती से निबटने के लिए कवायद शुरू कर दी गयी है. बीएसएफ के जैसलमेर (साउथ) के कमांडेंट जे एस संधू ने बताया कि जवानों को गर्मी से बचाने के लिए माकूल इंतजाम किए जा रहे हैं. जवानों के लिए वाटर कूलर, खाने में नींबू और प्याज तथा ड्यूटी के दौरान गर्मी से बचने के लिए पर्याप्त ड्रेस तथा छांव की व्यवस्था की जा रही है.

प्रशासन सीमा सुरक्षा बल के साथ समन्वय बनाये हुए है

जवानों को हीट वेव से बचाने के लिए समुचित चिकित्सा सुविधा उपलब्ध है. हेडक्वार्टर से मॉनिटरिंग भी जारी है. जिला कलक्टर आशीष मोदी ने बताया कि प्रशासन सीमा सुरक्षा बल के साथ समन्वय बनाये हुए है. सीमावर्ती ढाणियों और सीमा चौकियों पर बल व प्रशासन द्वारा पानी के परिवहन की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है ताकि आने वाले दिनों में गर्मी के कारण पैदा होने वाली समस्याओं से निजात पाई जा सके.
बाजारों और चौराहों पर भीड़भाड़ अपेक्षाकृत कम दिखाई दे रही है

जैसलमेर शहर में भी गर्मी का प्रकोप आमजन पर साफ दिखाई दे रहा है. बाजारों और चौराहों पर भीड़भाड़ अपेक्षाकृत कम दिखाई दे रही है. लोग जूस और शीतल पेय पदार्थों से हलक तर करते दिखाई दे रहे हैं. पशु भी त्रस्त हो कर छांव और पानी की जगह ढूंढ रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज