Home /News /rajasthan /

wife who plotted international bike rider husband murder with boyfriend arrested crime thriller story nodps

पत्नी ने करवाई इंटरनेशनल बाइक राइडर पति की हत्या, 4 साल बाद सुलझी मर्डर मिस्ट्री

बैंगलोर निवासी बाइक रेसर अस्बाक मौन धारोट का 17 अगस्त 2018 को शाहगढ़ इलाके में शव मिला था.

बैंगलोर निवासी बाइक रेसर अस्बाक मौन धारोट का 17 अगस्त 2018 को शाहगढ़ इलाके में शव मिला था.

Biker death in Jaisalmer: इंटरनेशल बाइक राइडर अस्बाक मौन की हत्या की आरोपी पत्नी सुमेरा परवेज को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी पत्नी 4 साल से पुलिस को चकमा दे रही थी. इस मामले में दो आरोपियों को करीब 2 साल पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया था. शुक्रवार को पुलिस ने सुमेरा को गिरफ्तार कर लिया है.

अधिक पढ़ें ...

श्रीकांत ब्यास, जैसलमेर. करीब चार साल पहले जैसलमेर घूमने आए बाइक रेसर अस्बाक मौन की संदिग्ध मौत के मामले में पुलिस ने हत्या की मास्टर माइंड महिला व मृतक की पत्नी सुमेरा परवेज को गिरफ्तार कर लिया है. करीब दो साल पहले इस हत्या में शामिल उसके दो दोस्तों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. जिसके बाद पुलिस द्वारा मास्टर माइंड सुमेरा को पकड़ने का लगातार प्रयास किया जा रहा था. लेकिन चालाक सुमेरा पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ रही थी. पुलिस द्वारा शातिर मास्टर माइंड को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया है. सुमेरा ने अपने आशिक के साथ मिलकर पति की हत्या कराई थी. सुमेरा का शादी के बाद भी अफेयर चल रहा था. इसी के चलते दोनों के बीच झगड़े होते रहते थे.

प्रेमी के साथ बनाया हत्या का प्लान

सुमेरा ने अपने पति को रास्ते से हटाने के लिए अपने आशिक के साथ मिलकर हत्या का प्लान बनाया था. गौरतलब है कि बैंगलोर निवासी बाइक रेसर अस्बाक मौन धारोट 11 अगस्त 2018 को बैंगलुरू से अपने साथी संजय कुमार, विश्वास एसडी व अब्दुल साबिक के साथ जैसलमेर के लिए रवाना हुआ था. 14 व 15 अगस्त को अस्बाक की अपनी पत्नी सुमेरा परवेज से बात भी हुई थी. 17 अगस्त को अस्बाक का शव शाहगढ़ इलाके में रेत के धोरों के पास संदिग्ध अवस्था में मिला.

जिसके बाद पत्नी सुमेरा परवेज अपने पिता के साथ जैसलमेर आई और पुलिस रिपोर्ट में मर्ग दर्ज करवाई. जिस पर पुलिस ने जांच कर इसे दुर्घटना मान फाइनल रिपोर्ट तैयार कर फाइल बंद करने की तैयारी कर ली थी. इसी बीच मृतक अस्बाक की मां व उसके भाई ने एक परिवाद भेजकर अस्बाक मौन की मौत पर शक जाहिर किया. जिस पर परिवाद में अंकित बिंदुओं पर जांच कर जांच अधिकारी की रिपोर्ट पर तत्कालीन पुलिस अधीक्षक डॉ अजयसिंह द्वारा इस मामले को हत्या का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू करवाई गई. जिसमें हत्या की सभी परते खुल गईं

पुलिस ने पहले माना भूख प्यास से हुई मौत, बाद में खुला राज
अस्बाक की मौत के मामले की फाइल पुलिस ने बंद करने की तैयारी कर ली थी. सुमेरा ने पति की मौत के मामले में किसी पर शक नहीं होने की बात कही थी. इसके बाद मान लिया था कि अस्बाक की मौत संभवतया रास्ता भटक जाने के बाद भूख-प्यास से हुई होगी. इसके बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट में अस्बाक की मौत की वजह गर्दन पर चोट लगने से होना बताया था. इसके बाद पुलिस को सुमेरा पर शक हुआ. पुलिस जांच में हत्या की परतें खुलती गईं.

पुलिस ने मामले की जांच में उसके दोस्तों से पूछताछ की और कॉल डिटेल भी खंगालने शुरू किए. इस मामले में पुलिस ने करीब दो साल पहले गुजरात से संजय कुमार व विश्वास एसडी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. पुलिस की जांच में सामने आया कि अस्बाक की हत्या करवाने में उसकी पत्नी सुमेरा परवेज भी शामिल थी. लंबे समय से पुलिस को सुमेरा की तलाश थी. अब पुलिस ने सुमेरा परवेज को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया है.

Tags: Jaisalmer news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर