Home /News /rajasthan /

bjp mla jogeshwar garg raises doubts over killing of dalit boy indra meghwal in jalore for touching water pot nodps

राजस्थान: जालोर बीजेपी विधायक बोले- छात्र से मारपीट 'जाति' के कारण या 'पानी' के कारण हुई है, इसमें संदेह

जालोर के विधायक गर्ग ने कहा कि मामले में पुलिस, प्रशासन और शिक्षा विभाग अलग-अलग जांच कर रहे हैं.

जालोर के विधायक गर्ग ने कहा कि मामले में पुलिस, प्रशासन और शिक्षा विभाग अलग-अलग जांच कर रहे हैं.

राजस्थान के जालोर जिले के सुराणा में छात्र इंद्र मेघवाल की मौत के मामले में राजनीति गर्मा गई है. जहां इस घटना के बाद लोगों में गुस्सा है तो वहीं विधायक, सांसद भी अपनी बात रख रहे हैं. ऐसे में जालोर के भाजपा विधायक जोगेश्वर गर्ग का भी बयान आया है. विधायक जोगेश्वर गर्ग का कहना है कि क्या मेघवाल होने और पानी के घड़े को छूने पर उसे पीटा गया था, इसमें अभी संशय है. इसकी जांच की जा रही है. साथ ही उन्होंने कहा कि इसमें कोई शक नहीं कि शिक्षक ने लड़के को पीटा और उसकी मौत हो गई.

अधिक पढ़ें ...

    जयपुर. राजस्थान के जालोर में दलित छात्र की कथित पिटाई से हुई मौत के मामले में भारतीय जनता पार्टी के विधायक जोगेश्वर गर्ग ने कहा है कि घटना का कारण तो जांच के बाद सामने आएगा. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि इस बात को लेकर संशय है क‍ि छात्र को केवल मेघवाल जाति का होने एवं पानी का घड़ा छूने के कारण पीटा गया था. उल्‍लेखनीय है कि जालोर के एक न‍िजी स्‍कूल के अध्‍यापक ने नौ वर्षीय दल‍ित छात्र को कथित तौर पर पानी का घड़ा छूने के ल‍िए बेरहमी से पीटा.

    छात्र की बाद में शनिवार को इलाज के दौरान मौत हो गई. जालोर के विधायक गर्ग ने कहा कि मामले में पुलिस, प्रशासन और शिक्षा विभाग अलग-अलग जांच कर रहे हैं. गर्ग ने कहा कि मैंने ग्रामीणों और अन्य लोगों से भी बात की है, और उनके अनुसार, इसमें संदेह है कि यह घटना इसलिए हुई क्योंकि लड़का मेघवाल था और उसने घड़े को छुआ था.

    साथ ही उन्‍होंने कहा कि इसमें कोई शक नहीं कि शिक्षक ने लड़के को पीटा और उसकी मौत हो गई. आरोपी शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ व जांच की जा रही है. क्या मेघवाल होने और पानी के घड़े को छूने पर उसे पीटा गया था, यह जांच में ही स्पष्ट हो जाएगा और निष्कर्षों के बाद ही बयान दिया जाना चाहिए.

    शांति व्यवस्था रखना चाहिए
    जालोर विधायक जोगेश्वर गर्ग ने कहा कि हमें शांति व्यवस्था बनाए रखने की आवश्यकता है. शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया गया है. शिक्षक ने मारपीट की है. उसने स्वीकार भी कर लिया है. लेकिन मटकी से पानी पीने वाले मामले को लेकर अब किसी को भी उग्र होने की जरूरत नहीं है. शांति व्यवस्था बनाए रखनी है क्योंकि यह अभी तक स्पष्ट नहीं हुआ है. तमाम चीजों को लेकर जांच चल रही है. जांच के बाद में ही तथ्य सामने आएंगे.

    जालोर में हुई घटना को लेकर वन एव पर्यावरण मंत्री हेमाराम चौधरी ने घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि सरकार पीड़ित परिवार के साथ खड़ी है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने संवेदनशीलता दिखाते हुए 5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत कर दी है. ऐसी घटनाओं से राज्य शर्मसार हुआ है और ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं ह, इसके लिए भी निर्देश दिए गए हैं.

    Tags: Rajasthan news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर