होम /न्यूज /राजस्थान /

दलित छात्र मर्डर केस: अंतिम संस्कार के बाद तनावपूर्ण शांति, इंटरनेट बहाल, पढ़ें ताजा अपडेट

दलित छात्र मर्डर केस: अंतिम संस्कार के बाद तनावपूर्ण शांति, इंटरनेट बहाल, पढ़ें ताजा अपडेट

जालोर के सुराणा गांव में दलित छात्र की मौत के बाद अंतिम संस्कार के समय उपजे हालात पर काबू पाने के लिये मशक्कत करती पुलिस.

जालोर के सुराणा गांव में दलित छात्र की मौत के बाद अंतिम संस्कार के समय उपजे हालात पर काबू पाने के लिये मशक्कत करती पुलिस.

Jalore Dalit Student Murder Case Update: राजस्थान के जालोर जिले के सायला इलाके के सुराणा गांव में टीचर की पिटाई से हुई दलित छात्र इन्द्र कुमार मेघवाल की हत्या के बाद रविवार शाम को उसका अंतिम संस्कार (Funeral) कर दिया गया. अंतिम संस्कार से पहले बिगड़े हालात के बाद अब गांव में तनावपूर्ण शांति बनी हुई है. गांव में अतिरिक्त पुलिस फोर्स तैनात है. आरोपी टीचर को आज कोर्ट में पेश किया जायेगा. जालोर में इंटरनेट सेवायें सोमवार को सुबह बहाल कर दी गई है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

जालोर जिले के सुराणा गांव में दलित छात्र की हत्या के बाद बवाल
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा घटना बेहद दुःखद

श्याम सुंदर बिश्नोई.

 जालोर. पश्चिमी राजस्थान के जालोर जिले के सायला थाना इलाके के सुराणा गांव में स्कूल टीचर की पिटाई से मौत (Dalit Student Murder Case) के शिकार हुये 9 वर्षीय इंद्र कुमार मेघवाल का तनावपूर्ण माहौल में भारी पुलिस जाब्ते के बीच रविवार शाम को अंतिम संस्कार (Funeral) कर दिया गया. उसके बाद अब माहौल शांत है. ऐहतियात के तौर पर सुराणा गांव में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात है. हत्या के आरोपी टीचर छैल सिंह को आज कोर्ट में पेश किया जायेगा. वहीं जिले में सोमवार सुबह इंटरनेट बहाल कर दिया गया है.

दिल को दहला देने वाली इस हत्या पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर दुख जताया है. अपने ट्वीट में राहुल गांधी ने कहा कि जालोर में निर्दयी शिक्षक द्वारा एक मासूम दलित बच्चे को बुरी तरह पीटे जाने के बाद उसकी मृत्यु की घटना बेहद दुःखद है. मैं इस क्रूर कृत्य की भर्त्सना करता हूं. पीड़ित परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं. आरोपी कठोर धाराओं के तहत गिरफ्तारर हो चुका है. उसे कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए.

रविवार शाम को हो गये थे तनावपूर्ण हालात
रविवार को दोपहर बाद मासूम का शव उसके गांव सुराणा लाये जाने पर एक बारगी हालात बिगड़ गये थे. परिजनों और ग्रामीणों ने अपनी मांगों को लेकर शव का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया था. उसके बाद उनकी पुलिस-प्रशासन के साथ समझौता वार्ता हुई लेकिन वह सफल नहीं हो पाई. बाद में गांव में ग्रामीणों और पुलिस के बीच झड़प हो गई. इससे वहां उपद्रव के हालात हो गये थे.

गांव में फिलहाल तनावपूर्ण शांति
हालात को बिगड़ते देखकर पुलिस प्रशासन ने दस बसें भरकर अतिरिक्त जाब्ता मंगवाया और उस पर काबू पाया. उसके बाद पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में ले लिया. आज इस मामले को लेकर एसी आयोग के अध्यक्ष खिलाड़ी बैरवा आयेंगे. वे पीड़ित परिवार से मुलाकात करेंगे. पुलिस प्रशासन गांव के हालात पर नजर बनाये हुये है. गांव में फिलहाल तनावपूर्ण शांति बनी हुई है.

20 जुलाई को हुई थी घटना
उल्लेखनीय है कि बीते 20 जुलाई को इंद्र कुमार मेघवाल की सुराणा गांव में प्राइवेट स्कूल में टीचर छैल सिंह ने बेरहमी से पिटाई कर दी थी. उसके बाद इंद्र की तबीयत बिगड़ गई थी. करीब 25 दिन के इलाज के बाद शनिवार को उसकी अहमदाबाद में मौत हो गई थी. इंद्र के परिजनों का आरोप है कि स्कूल में पानी की मटकी के हाथ लगा देने से नाराज टीचर छैल सिंह ने इंद्र को बुरी तरह से पीटा था. बहरहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है.

Tags: Crime News, Murder case, Rahul gandhi tweet, Rajasthan news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर